Breaking News

राष्ट्रगान रचयिता रविन्द्रनाथ टैगोर ने देश की आजादी में अहम योगदान दिया : शशिशेखर

अलीगंज/जमुई (Aliganj/Jamui) : साहित्य जगत के साथ ही देश की आजादी के आन्दोलन में अपनी अमिट छाप छोड़ने वाले रवीन्द्रनाथ टैगोर की अलीगंज बाजार में सोशल डिस्टेंसिंग को ध्यान में रखते हुए 160 वा जयंती मनायी गयी।समाजसेवी सह अधिवक्ता शशिशेखर सिंह मुन्ना ने कहा देश की आजादी में अहम योगदान दिया रवीन्द्रनाथ टैगोर जी का रहा है।वे अपने लेखनी कविता से लोगों को देश के प्रति समर्पित होने पर विवश कर दिया था।

वर्ष 1913 में उनकी कृति गीतांजलि के लिए साहित्य श्रेणी के नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। किसान श्री धर्मेद्र कुशवाहा ने कहा कि ने बताया कि उनका देश कै प्रति समर्पित भावना था। फुल की पंखुडियां को तोडकर आप उसकी सुन्दरता को इकट्ठा नहीं करते। उनका कथन था कि सेवा करो सेवा में ही जीवन का आनंद है।

इस मौके पर डॉ. दिनेश कुमार, अशोक कुमार, नगिना चंद्रवंशी, चंद्रशेखर आजाद, रविशंकर सिंह सहित कई अन्य गणमान्य लोग मौजूद थे। सभी ने टैगोर के व्यक्तित्व व कृतित्व की विस्तृत चर्चा किया।