Breaking News

गिद्धौऱ : बनझुलिया में हुई दिव्यांगों की प्रखंड स्तरीय बैठक, हक और अधिकार ने लिए बुलंद की आवाज

Gidhaur/गिद्धौऱ (न्यूज़ डेस्क) :-  प्रखंड दिव्यांग सेवा संघ गिद्धौऱ के द्वारा रविवार को दिव्यांगजनों की एक प्रखंड स्तरीय बैठक गिद्धौऱ के बनझुलिया गाँव अवस्थित महात्मा गाँधी सार्वजनिक पुस्तकालय भवन में अयोजित की गई।

बैठक में भाग लेते सदस्य | gidhaur.com

बैठक की अध्यक्षता प्रखंड अध्यक्ष किशोरी पंडित ने की। इस प्रखण्ड स्तरीय बैठक में प्रखंड के 8 पंचायतों से सभी प्रकार के दिव्यांगों ने बढ़-चढ़कर भाग लिया। बैठक में सर्वप्रथम सरसा गांव निवासी दिव्यांग विजय कुमार ने संघ में उनके साथ किए गए दुर्व्यवहार को लिखित रूप से शिकायत की एवं कार्रवाई की मांग की। इस पर संघ ने कड़ी निंदा करते हुए दिव्यांगों के साथ  मारपीट को अशोभनीय बताया। उन्होंने कहा कि सरकार दिव्यांगों की सुरक्षा और सम्मान बातें करती है लेकिन उनके अधिकारी सीमा को तार-तार करते हुए सरकारी मर्यादा का उलंघन करते हैं। संघ इसकी शिकायत डीएम से करके कार्रवाई की मांग करेगी ।

बैठक में नाराजगी व्यक्त करते हुए दिव्यांगों ने एक स्वर में कहा कि राज्य निशक्तता आयुक्त  शिवाजी कुमार  के द्वारा बीते 29 जनवरी को प्रखंड कार्यालय में चलंत न्यायालय शिविर का आयोजन किया गया था, जिसमे विकलांगों के हित में पारित किए गए निर्देश आज तक कागजों में ही सिमट गया है। दिव्यांग सेवा संघ के सचिव डब्लू पंडित ने सभी पंचायत अध्यक्षों को निर्देश देते हुए कहा कि आप सभी अपने-अपने पंचायतों में जो भी दिव्यांग है उन्हें यूडी आईडी कार्ड ऑनलाइन करवाने में सहयोग करें ताकि उनका यूडी आईडी कार्ड और डिजिटल प्रमाण पत्र बन सके । बैठक में मुख्यमंत्री निशक्तजन विवाह प्रोत्साहन योजना का भी अपने-अपने पंचायतों में भरपूर रूप से प्रचार प्रसार कराने के निर्देश संघ की ओर से दिए गए। इसके अलावे दिव्यांगता पेंशन, उइडिकार्ड समेत दिव्यांगों के लिए चलाए जा रहे योजनाओं पर चर्चा करते हुए अन्य दिव्यांगों तक इसका लाभ पहुंचाने पर विचार किया गया।

मौके पर सेवा पंचायत अध्यक्ष श्यामसुंदर तांती, पतसंडा पंचायत अध्यक्ष सुधीर कुमार यादव, प्रखंड उपाध्यक्ष सपना भारती, पप्पू कुमार, रंजीत कुमार झा, राजेश कुमार मण्डल, नीतू कुमारी,  सकलदेव यादव, परिवार विकास संस्था के बाल सुरक्षा समन्वयक गोपी कुमार आदि मौजूद रहे।