Header Ad

header ads

अलीगंज : बुद्धिजीवियों ने दी डॉ. उत्पलकांत सिंह को श्रद्धांजलि, व्यक्त की शोक-संवेदना

Aliganj News (चन्द्रशेखर सिंह).:-  बिहार के शिशु रोग विशेषज्ञ डॉ. उत्पल कान्त सिंह के गुरुवार को दिल्ली स्थित बेदानता अस्पताल में इलाज के दौरान निधन हो जाने से क्षेत्र के बुद्धिजीवियों ने शोक संवेदना व्यक्त की है। वे वर्षो से कैंसर बीमारी से ग्रसित थे। इलाज के दौरान वे दिल्ली में अंतिम सांस ली। 

मौन धारण कर श्रद्धाजलि देते बुद्धिजीवी

बता दें, कि वे बिहार के राजधानी पटना में शिशु रोग विशेषज्ञ थे। उनके निधन पर चिकित्सकों सहित आमजनों एवं उनके शुभचिन्तकों में शोक की लहर फैल गई।शुक्रवार को अलीगंज बाजार में डॉ. दिनेश कुमार की अध्यक्षता में एक शोक सभा का आयोजन किया गया, जिसमें दो मिनट का मौन रखकर उन्हें श्रद्धांजलि दी गयी। डॉ. दिनेश कुमार बताया कि डॉ. उत्पल बाबू काफी मृदु भाषी विचार के साथ-साथ शान्ति विचारधारा के अनुभवी चिकित्सक थे। वे शिशु विशेषज्ञ के नाम से पूरे राज्य में प्रसिद्ध थे। वहीं , अधिवक्ता शशिशेखर सिंह 'मुन्ना' ने कहा कि आज हम लोग अपने एक अनुभवी व शिशु रोग विशेषज्ञ को खो दिया है।समाजसेवी सह कांग्रेस नेता पूर्व विधायक प्रत्याशी धर्मेन्द्र पासवान उर्फ गुरुजी ने कहा कि डॉ. उत्पल बाबू को शिशु रोग का महारथ हासिल था। बता दें कि उनके एक पुत्र कुमार सिद्धार्थ अभी वर्तमान में कांग्रेस पार्टी के विधायक हैं। उनके निधन पर दर्जनों लोगों ने शोक संवेदना प्रकट की है। शोक सभा में वरिष्ठ कांग्रेसी नेता श्याम सुन्दर सिंह, डॉ. दिनेश कुमार , डॉ. मंटू सिंह, परमेश्वर यादव, महेश सिंह राणा, किसान धर्मेद्र कुशवाहा, नरेश यादव, मो. समशाद, रविशंकर सिंह, अवधेश यादव, डॉ. लाल योगेन्द्र सिंह, डॉ. के. पी. मिश्रा, 

डॉ. रंजय कुमार सिंह, डॉ. रजनीश सिंह, डॉ. ए आर काजमी, मनोज कुमार, डॉ.  ईश्वरी प्रसाद, अशोक कुमार , सुलेखा देवी, राजनंदन सिंह, सिंघेश्वर महतो सहित दर्जनों चिकित्सक व गणमान्य लोग मौजूद थे।