Header Ad

header ads

गिद्धौर : सेवा गांव की श्वेता ने सिविल इंजीनियरिंग में पाई सफलता, लोगों ने दी बधाई

न्यूज़ डेस्क | अभिषेक कुमार झा】 :-

शिक्षा के क्षितिज पर बेटियां अब कामयाबी के परचम लहरा रही है। प्रखण्ड क्षेत्र के  सेवा पंचायत निवासी शिक्षक सौदागर सागर की पुत्री श्वेता सागर ने स्टेट बोर्ड ऑफ टेक्निकल एज्यूकेशन बिहार के द्वारा अक्टूबर माह में आयोजित सिविल इंजीनियरिंग डिप्लोमा में 79.5 फीसदी अंक प्राप्त कर ग्रामीण क्षेत्र की बेटियों का मान बढ़ाया है।

सुश्री श्वेता के पिता शिक्षक तथा माता लालती देवी गिद्धौर पीएचसी में आशा कर्मी हैं। श्वेता ने वर्ष 2014 में गिद्धौर स्थित महाराज चंद्रचूड़ विद्यामंदिर से मैट्रिक, व वर्ष 2016 में इंटरमीडिएट प्रथम श्रेणी से उत्तीर्ण की है। इसके बाद न्यू गवर्नमेंट पॉलीटेकनिक पटना में श्वेता ने सिविल इंजीनियरिंग के परीक्षा में डिस्टिंक्शन प्राप्त की।

श्वेता के अभिभावकों ने उक्त जानकारी साझा करते हुए बताया कि श्वेता बचपन से ही पढ़ाई के प्रति गम्भीर रही है। आगामी भविष्य में श्वेता बीटेक के अलावे सिविल सर्विसेज की इच्छा रखती है। ग्रामीण बालाओं के मान को बढ़ाने वाली श्वेता के इस उपलब्धि पर स्थानीय बुद्धिजीवियों व शिक्षाविदों ने शुभकामनाएं प्रेषित की।