शिक्षक होते हैं समाज के शिल्पकार : धर्मेन्द्र पासवान - gidhaur.com : Gidhaur - गिद्धौर - Gidhaur News - Bihar - Jamui - जमुई - Jamui Samachar - जमुई समाचार

Breaking

A venture of Aryavarta Media

Post Top Ad

Post Top Ad

Sunday, 6 September 2020

शिक्षक होते हैं समाज के शिल्पकार : धर्मेन्द्र पासवान


Aliganj News (चंद्रशेखर सिंह) :

प्रखंड के अलीगंज बाजार में भारत के पूर्व राष्ट्रपति सर्वपल्ली राधाकृष्णन की जयंती समाजसेवी शशिशेखर सिंह 'मुन्ना' की अध्यक्षता में मनायी गयी। सर्व प्रथम लोगों ने उनके चित्र पर पुष्प अर्पित कर उन्हे नमन किया और उनके बताये रास्ते पर चलने का संकल्प लिया। समाजसेवी सह बिहार प्रदेश कांग्रेस किसान सेल जमुई के जिलाध्यक्ष सह सिकंदरा विधानसभा के भावी प्रत्याशी धर्मेन्द्र पासवान उर्फ गुरु जी ने कहा कि शिक्षक समाज के ऐसे शिल्पकार होते है, जो बिना किसी मोह के समाज को तराशते है। उन्होंने कहा कि सर्व पल्ली जी एक साधारण शिक्षक से देश के सर्वोच्च पदों को भी सुशोभित किया।
उन्होंने कहा कि शिक्षक का काम सिर्फ किताबी ज्ञान देना ही नही बल्कि सामाजिक परिस्थितियों से छात्रो को परिचित कराना भी होता है। शिक्षकों की इसी महता को सही स्थान दिलाने के लिए ही हमारे देश डॉ. सर्व पल्ली राधाकृष्णन जी ने पुरज़ोर कोशिशें की जो खुद एक बेहतरीन शिक्षक थे। अपने इस महत्वपूर्ण योगदान के कारण ही भारत के पूर्व राष्ट्रपति सर्व पल्ली राधाकृष्णन के जन्मदिन 5 सितंबर को शिक्षक दिवस के रूप में मनाया जाता है।अधिवक्ता शशिशेखर सिंह 'मुन्ना' ने कहा कि एक साधारण परिवार से वास्ता रखने वाले एक सीमित आय में डा राधाकृष्णन जी ने सिद्ध कर दिया कि प्रतिभा किसी की मोहताज नहीं होती।उन्होंने न केवल महान् शिक्षाविद के रूप में ख्याति प्राप्त की, बल्कि देश के सर्वोच्च पद को भी सुशोभित किया। 
मौके वरिष्ठ कांग्रेसी नेता श्याम सुन्दर सिंह, प्रभुदयाल सिंह, सुबोध सिंह, नगीना चंद्रवंशी, अशोक कुमार, चंद्रशेखर आजाद, परमेश्वर यादव, कृष्ण कुमार, रविजी, रघुनंदन पासवान, दिनेश कुमार के अलावे दर्जनो लोग मौजूद थे।

Post Top Ad