जमुई : पत्रकार विभूति भूषण के जन्मदिन पर साइकिल यात्रा ने पतनेश्वर धाम में किया पौधरोपण - gidhaur.com : Gidhaur - गिद्धौर - Gidhaur News - Bihar - Jamui - जमुई - Jamui Samachar - जमुई समाचार

Breaking

A venture of Aryavarta Media

Post Top Ad

Post Top Ad

Sunday, 23 August 2020

जमुई : पत्रकार विभूति भूषण के जन्मदिन पर साइकिल यात्रा ने पतनेश्वर धाम में किया पौधरोपण

जमुई (Jamui) : वर्तमान समय में बढ़ते ग्लोबल वार्मिंग(Global warming), पर्यावरण प्रदूषण (Invironment pollution) घटती वन भूमि के साथ साथ कोरोना महामारी (Corona pandemic) से जहाँ विश्व (world) की धरती त्राहि त्राहि कर रही है, वही अब युवाओं, महिलाओं, बच्चों एवं वरिष्ठ नागरिकों ने धरती माता के कष्ट को दूर करने एवं पर्यावरण संरक्षण के लिये अपने जन्मदिन एवं अन्य महत्वपूर्ण अवसरों पर वृक्षारोपण करना तथा वृक्षों के बड़े होने तक संरक्षण करने की अद्भुत पहल शुरू कर दी है।

इसी अद्भुत पहल पर लगातार कार्य रही साईकिल यात्रा एक विचार मंच के 242वें यात्रा के क्रम में पतनेश्वर धाम के परिसर, मंच के मोटिवेटर, सामाजिक कार्यो में लगे एवं पत्रकार विभूति भूषण के जन्मदिन के अवसर में 31 पौधा लगाया गया। साईकिल यात्रियों को जत्था अपने नियमित रविवारीय यात्रा के क्रम मे प्रखण्ड कार्यालय से निकल कर सतगमा, खैरमा होते हुए पतनेश्वर धाम पहुँची। 
विभूति भूषण ने बताया की अपने जन्मदिन के शुभअवसर पर वृक्षारोपण करते हुए जन्मदिन मनाना काफी सबसे बड़ी पूजा है। लोगों को यह पहल अपनाना चाहिए कि अपने जन्मदिन पर एक पौधे लगाए और उनके बड़े होने तक देखभाल करने का संकल्प लेते हुए कहा कि जल जीवन हरियाली के साथ विश्व कल्याण हेतू-वृक्ष है तो हम सब हैं, इस तरह यदि एक दूसरे से प्रेरित होकर सभी लोग पर्यावरण संरक्षण के लिए वृक्षारोपण करेंगे तो निश्चित ही ग्लोबल वार्मिंग पृथ्वी पर अपना कहर नहीं बरपा पाएगी।

पतनेश्वर धाम के पुजारी राजीव पाण्डेय ने बताया की यदि हमलोग अपने खुशी में पूजा को जितना महत्व देते है, उसी प्रकार यदि पूजा के साथ साथ एक पौधा रोपण कर दे तो काफी समस्या से मुक्ति इन पौधे से मिल सकता है। पूजा हमें मानसिक तनाव से मुक्ति देता है जबकि पौधा हमें शारीरिक रूप से स्वस्थ रखता है, इसलिए हमें हम खुशी को यादगार बनाये रखना चाहते एक पौधा लगाना चाहिए।

इस अवसर पर मंच के सदस्य संदीप कुमार रंजन, विवेक कुमार, हरेराम कुमार सिंह, शैलेश भारद्वाज, सुभाष कुमार, रणधीर कुमार, विनय कुमार तांती, लड्डू मिश्रा, अकाश कुमार, शेषनाथ राय, सचिराज पद्माकर, विकास आनंद एवं शेखर कुमार  के साथ-साथ मीनाक्षी कुमारी, साक्षी कुमारी, मानस कुमार, बालाजी, नितेश केशरी के साथ कई पुजारी भी मौजूद थे।

Post Top Ad