बड़ी खबरें

अलीगंज : सोशल डिस्टेंसिंग के साथ मनाई गई बकरीद


Aliganj News (चंद्रशेखर आजाद)
प्रखंड क्षेत्र के विभिन्न मुस्लिम गांव में शोसल डिसटेनसिग को ध्यान में रखते हुए ईद उल अजहा (बकरीद) पर्व हर्षोउल्लास के साथ मनाया गया। प्रखंड क्षेत्र के अलीगंज, चंद्रदीप, आढा, दीननगर, मिर्जागंज सहित गांवो में धूमधाम व परंपरागत तरीके से ईदगाह पर जाकर ईद की नमाज अदा कर अपने-अपने पूर्वजों के याद में अपने घरों में बकरा की कुर्बानी दी। बकरीद का दिन फर्ज ए कुर्बान का दिन होता है। इस्लाम में गरीबों व मजलूमों का खास ध्यान रखने की परंपरा है। इसी वजह से बकरीद पर भी गरीबों का विशेष ध्यान रखा जाता है। इस दिन कुर्बानी के बाद गोश्त के तीन हिस्से किये जाते है। इन तीन हिस्सों में से एक हिस्सा खुद के लिए और शेष  दो हिस्से समाज के गरीब व जरुरतमंद लोगों मे बांट दिये जाते है। ऐसा करके मुस्लिम समाज इस बात पैगाम देते है कि अपने दिल की करीबी चीज भी हम दूसरों के बेहतरी के लिए अल्लाह की राह में कुर्बान कर देते हैं। इस्लाम को मानने वाले लोगों को बकरीद का विशेष महत्व है।इस्लामिक मान्यता के अनुसार, हजरत इब्राहीम अपने बेटे हजरत इस्माइल को इसी दिन खुदा के हुक्म पर खुदा के राह में कुर्बान करने जा रहे थे। तब अल्लाह ने उनके नेक जज्बे को देखते हुए उनके बेटे को जीवन दान दे दी।  यह पर्व इसी के याद में मनायी जाती है। इधर इद उल अजहा पर्व के मौके पर युवा शक्ति के प्रान्तीय नेता शशिशेखर सिंह मुन्ना, ऑल इंडियाकांग्रेस वर्कर्स के जमुई जिलाध्यक्ष समाजसेवी धर्मेद्र पासवान उर्फ गुरू जी, महेश सिंह राणा , जदयु के प्रदेश महासचिव मो सैयद नज्म इकबाल, मो मुमताज ने मुसलमान भाईयों को बकरीद पर्व की मुबारकबाद दी है।

No comments