बड़ी खबरें

गिद्धौर : धान के पौधों पर गिरी बारिश की संजीवनी, गदगद हुए किसान

Gidhaur News (धनंजय कुमार 'आमोद') :-

 प्रखंड भर के किसान धान की रोपनी के काम में लगे हुए हैं। ऐसे हालात में पानी के लिए किसानों की आंख आसमान की ओर टकटकी लगाए हुए थे, जिससे कि किसानों का काम पानी के बिना धान की रोपाई अधूरा पड़ा हुआ था। वहीं, देर शाम हुई बारिश किसानों को राहत दिला दी। कई दिनों से उष्म भरी गर्मी तो हो ही रही थी लेकिन बारिश नहीं होने से आम लोगों के साथ किसान भी चिंतित नजर आ रहे थे, जिससे कि किसान धान रोपाई नहीं कर पा रहे थे। प्रखंड क्षेत्र के कुछ भागो में धान रोपाई भी हुई वह भी सूखने की स्थिति में पहुंच गया था। ऐसे में देर शाम बारिश से किसानों को बहुत राहत मिली, जिससे कि किसानों के चेहरे खिल गए व खुश हुए। देर शाम में हुई बारिश से धान कि रोपनी में तेजी आएगी।


किसान सुरेश यादव, डोमन यादव, दिनेश रजक, पिंटू रजक, उपेंद्र यादव, आमोद यादव, पवन यादव, कैलू ठाकुर, धनेश्वर पंडित, आदि किसान ने कहा कि पिछले एक सप्ताह से बारिश नहीं हो रहा था जिससे कि हम सभी किसान चिंतित हो रहे थे, बिजली की आपूर्ति भी ठीक-ठाक से नहीं मिल पा रहा है। ऐसी स्थिति में पूरी तरह हम सभी किसान आसमान से होने वाले बारिश पर ही निर्भर होने लगे। कुछ दिन पूर्व हुई बारिश धान रोपाई के लिए पर्याप्त नहीं था। ऐसे में  बारिश ने धान रोपाई के कार्य में संजीवनी का काम किया है। किसानों ने इस बार पहले की अपेक्षा बेहतर धान की उपज होने की उम्मीद जताई है।

No comments