बड़ी खबरें

गिद्धौर : कोरोना के साये में काफ़ूर हुई ईद की खुशियां, सादगीपूर्ण तरीके से मना पर्व

न्यूज़ डेस्क | अभिषेक कुमार झा】:-

एक महीने के रमजान पाक के बाद गिद्धौर के मुस्लिम धर्मविलम्बियों ने सोमवार को सादगीपूर्ण तरीके से ईद मनाया। इस दौरान समाजिक दूरी का पालन करते हुए ईद का नमाज़ अपने घर मे पढ़े। मुस्लिम समुदाय के लोगों ने सुरक्षा चक्र बनाकर ईद की खुशियां बांटी। गिद्धौर की सड़कों पर प्रशासन द्वारा सख्त गश्ती भी जारी रही।

वहीं, गिद्धौर के मो. मुमताज़ खान, मो.सलीम, असगर खान, नियाज खान,  मो. शाहिद, जाकिर खान, मो. इस्राफील, दिलीप खान, जासिम खान, सरफराज खान, मो. डब्लू, मो. शहादत, मो. बबलू आदि बताते हैं कि सदियों से चली आ रही परंपरा इस बार कोरोना वायरस संक्रमण को लेकर टूट सी गई है। मुस्लिम समाज के लोग ईदगाह व मस्जिदों में जाने के बजाय घर मे ही नमाज पढ़ा गया। कोरोना का कहर और लोकडाउन को देखते हुए धनियाथिका, मौरा, नवादा आदि गांवों के सभी मुस्लिम समाज के लोग ईद सादगीपूर्ण तरीके से मनाने का निर्णय लिया है।
वहीं, गिद्धौर जामा मस्जिद के इमाम हजरत नाजिम अंसारी बताते हैं कि, ईद का पर्व खुशियों का पैगाम लेकर आता है। ईद पर पारम्परिक सद्भाव और भाईचारे को मजबूती के साथ साथ कोरोना पर फतेह पाने की भी दुआ अल्लाह से की गई है। कोरोना के संकट के कारण परस्पर मिल-जुलकर त्योहार मनाए जाने का संयोग नहीं हो पा रहा।
 इधर, जिला प्रशासन की ओर से शांतिपूर्ण व सौहार्दपूर्ण वातावरण में ईद मनाये जाने की अपील और रविवार की देर संध्या चांद का दीदार होते ही मुस्लिम समुदाय के लोगों द्वारा सोशल मीडिया और फोन पर ही ईद की मुबारकबाद देनी शुरू हो गयी थी।