बड़ी खबरें

सोनो BDO बोले, पंचायतों के विद्यालयों में बनेंगे क्वॉरेंटाइन सेंटर

Sono (न्यूज़ डेस्क) :-  कोरोना के इस संकट काल में प्रवासी मजदूरों व कामगारों के घर वापसी का सिलसिला अनवरत जारी है, और इनकी संख्या को देखकर प्रशासन के हाथ पैर फूल रहे हैं।


ऐसे में प्रखंड स्तर पर बने क्वॉरेंटाइन केंद्रों पर इन्हें क्वॉरेंटिन किया जाना संभव नहीं है। जिलाधिकारी धर्मेंद्र कुमार के निर्देश पर इन प्रवासियों को चौदह दिनों के लिए पंचायत स्तर के विद्यालय में क्वॉरेंटिन किया जाना है। इसको लेकर सोमवार को बीडीओ रविजी ने स्थानीय बीआरसी में चिन्हित विद्यालयों के प्रभारी प्रधानाध्यापकों के साथ बैठक की। इस दौरान बीडीओ ने बताया कि पंचायतों के वैसे चिन्हित विद्यालय, जहां क्वॉरेंटाइन केंद्र बनाया जा रहा है, उसके प्रधान ही क्वॉरेंटाइन केंद्र के प्रभारी होंगे। प्रवासी मजदूरों व कामगारों के भोजन, आवासन की समुचित व्यवस्था के लिए वो उत्तरदायी होंगे। इसके लिए उन्हें डिग्निटी किट, राशन सहित आवश्यक सामग्री व कंटीजेंसी, अंचल कार्यालय द्वारा उपलब्ध करवाया जाएगा। विद्यालय के रसोईया, प्रवासियों के लिए भोजन तैयार करेंगी। वही प्रवासियों के प्रखंड में स्वागत सह निबंधन के लिए शिक्षकों की प्रतिनियुक्ति की गई है, जो जिले से प्रवासियों के आगमन पर उन्हें संबंधित पंचायत के क्वॉरेंटाइन केंद्र तक भेजने में मदद करेंगे। मौके पर अंचलाधिकारी अनिल कुमार चौबे, प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी सीताराम दास, प्रखंड साधन सेवी डॉ राजेश कुमार सिंह, बीआरपी राजेश कुमार गुप्ता आदि मौजूद थे।