बड़ी खबरें

गिद्धौर के 4 क्वेरेंटीन कैम्पों पर हुई 560 बेड की व्यवस्था, प्रशासन सख्त


न्यूज़ डेस्क | अभिषेक कुमार झा】:-

वैश्विक महामारी का रूप ले चुके कोरोना के परिप्रेक्ष्य में लागू लॉकडाउन का तीसरा अध्याय शुरू हो गया है। इस दौरान अन्य राज्यों से वापस आने वाले अप्रवासी मजदूरों व अन्य लोगों के लिए प्रखण्ड स्तरीय क्वेरेटिंन केन्द्र में व्यवस्थाओं को और भी सुदृढ़ कर दिया गया है। उक्त सन्दर्भ में डीएम धर्मेन्द्र कुमार द्वारा प्रखंड विकास पदाधिकारी व अंचलाधिकारी को पत्रांक 1189 के माध्यम से केंद्रों के संचालन हेतु विशेष दिशा-निर्देश दिए गए हैं।


बता दें, कि केंद्र सरकार की घोषणा के बाद विभिन्न माध्यमों से लोगों का जत्था वापस आने का सिलसिला जारी है। इसको लेकर जमुई जिला अंतर्गत प्रखंडवार कुल 54 क्वेरेंटीन कैम्प का चयन किया गया है। इन कैम्पों पर क्वेरेंटीन प्रभारियों को भी तैनात किया गया है। इसी कड़ी में गिद्धौर प्रखण्ड क्षेत्र में कुल 4 कैम्पों को चयनित किया गया है। इन चारों कैंपों में भी प्रभारियों की प्रतिनियुक्ति की गई है। चार कैम्पों को मिलाकर गिद्धौर को क्वेरेंटीन के रूप में कुल 560 बेड ही मिल सकेगा।

- किन कैम्पों पर किन्हें मिली जिम्मेदारी -

जिलाधिकारी द्वारा चयनित कुल 54 क्वेरिनटाएँन केन्द्र में से गिद्धौर को 4 कैम्प मिले हैं।



विदित हो कि, प्रखंड क्वेरेंटीन में लाये जाने वाले प्रवासियों में कोविड-19 के लक्षण पोसिटिव पाए जाने पर उन्हें आइसोलेश सेंटर भेज दिया जाएगा, एवं मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी के द्वारा प्राप्त निर्देशों पर अग्रेतर कार्रवाई की जाएगी।