बड़ी खबरें

जमुई : कोरोना काल में मानवाधिकार संगठन के दो युवक बने योद्धा, माइकिंग से फैला रहे हैं जागरूकता

>> जोश, जुनून और जज्बे से मिल रहा है कोरोना से लड़ने का साहस

न्यूज़ डेस्क | अभिषेक कुमार झा】:-

कोरोना का चक्र अब देशव्यापी चुनौती बनकर खड़ा है। विज्ञान, तकनीक, चिकित्सा सहित अन्य पायदान पर  सामाजिक संगठनों से जुड़े लोग भी इस ओर अग्रणियों में गिने जा रहे हैं।  कोरोना संक्रमण वैश्विक महामारी में मानवाधिकार संगठन से जुड़े जमुई के दो युवक कोरोना योद्धा की भूमिका में नजर आ रहे हैं।
 यह जज्बा है मानवाधिकार संगठन से जुड़े ऐसे दो युवक की जो सुबह से शाम तक माइकिंग कर लोगों को कोरोना वायरस के प्रति लोगों के बीच जागरूकता के बीज बो रहे हैं। नाम है प्रदीप कुमार एवं दिनेश कुमार। प्रदीप पूर्व वार्ड पार्षद रह चुके हैं।


कोरोना संक्रमण के दौर में घर-परिवार छोडकऱ अपनी जिम्मेदारियों का निर्वहन कर रहे ये दोनों युवक अपने बाइक में ही माइकिंग सियस्टम लगाकर गांव-गांव घूमते हुए लोगों को कोरोना से बचाव के मंत्र दे रहे हैं। साथ ही कालाबजारी, न करते हुए एक दूसरे के मदद की भी अपील की। दोनों युवक बताते हैं कि पिछले 26 मार्च से लॉक डाउन का पालन करने की अपील व कोरोना वायरस से बचाव को लेकर प्रचार-प्रसार कर रहे हैं।  इसके लिए जिला प्रशासन द्वारा पास निर्गत किया गया है। इस कोरोना योद्धा का कहना है कि इस विपदा में लोगों को जागरूक रहने की आवश्यकता है। तभी हम अपने देश व प्रदेश को संक्रमण से पूरी तरह से मुक्त कर सकते हैं। लोगों को लॉक-डाउन, सोशल डिस्टनसिंग का पाठ पढ़ाने वाले ये दोनों योद्धा ने कहा कि सामूहिक सार्थक प्रयासों से कोरोना पर फतेह पाया जा सकता है।