बड़ी खबरें

अलीगंज : युवक का बाइक रोककर ईट-पत्थर से पीटा, कर दी हत्या

 अलीगंज (चन्द्र शेखर सिंह) -:  चंद्रदीप थाना क्षेत्र के धनामा गांव निवासी 22 वर्षीय संदीप कुमार उर्फ मंसुरी महतो को नकाबपोश अपराधियों ने बाईक रोक कर युवक को ईट पत्थर से कुच कर हत्या कर दी।

बताया जाता है कि संदीप बुधवार की देर संध्या बाईक से अपने बहनोई व गांव के ही एक युवक के साथ अलीगंज बाजार आया था और लौटने के क्रम में पहले से घात लगाये नकाबपोश अपराधियों ने सोनखार वजरंगवली मंदिर के समीप बाईक रोक उक्त युवक को उतार कर कब्जे में लेकर सड़क के पश्चिम बहियार में लगे अरहर खेत में ले जाकर ईट पत्थर से कुच कर हत्या कर दिया। जब तक बहनोई घर पहुंच घटना की सारी जानकारी परिजनों को दी, तब गांव से दर्जनो लोग घटनास्थल पर पहुँचे तो देखा की अरहर खेत में युवक मृत पड़ा है। परिजनों ने बताया कि गांव में मटका फोड कार्यक्रम चल रहा था उसे देखने वह गया था। उसी समय किसी ने उसको फोन कर अलीगंज बुलाया था।

घटना की सूचना पुलिस को दी गयी। पुलिस रात में ही घटना स्थल से शव को कब्जा में ले लिया था। गुरूवार को शव को पोस्टमार्टम कराकर परिजनों को पुलिस ने सौप दिया।मृतक युवक के भाई व मा शकुनतला देवी ने बताया कि मेरे ही गांव के एक शिक्षक महेन्द्र मोची के साथ मेरे बेटा को मारपीट की घटना कुछ दिनों पूर्व हुआ था। मेरे बेटा को शिक्षक ने केश में फंसा कर जेल भेजवा दिया था।पांच महीना पूर्व ही वह जेल से छुटकर बाहर आया था।और एक साजिश रचकर घटना का अंजाम दिया है। सुत्र बताते हैं कि यह युवक शराब कारोबार से भी जुडा था। कुछ जगहों पर शराब बेचवाने का भी कार्य कर रहा था। उसके लेकर भी विवाद कुछ दिन पहले कुछ लोगों से वाद- विवाद हुआ था। ऐसे तो शिक्षक महेन्द्र मोची के साथ विवाद का कारण गांव में ही किसी महिला से अवैध संबंध के कारण हुआ था।जिसमें मृतक युवक संदीप के द्वारा विरोध किया गया था।जिसको लेकर शिक्षक और मृत युवक में जमकर मारपीट हुई थी। जिसमें वह जेल भी गया था,और दोनों में एक दुसरे को देख लेने की धमकी भी  दिया गया था। मृतक की माँ दहाड मारकर हत्या करवाने की विलाप कर रही थी। परिजनों में मातम का महौल है।
चंद्रदीप के थानाध्यक्ष सुनील कुमार ने बताया कि युवक को ईट पत्थर से कुच कर हत्या की गई है। परिजनों के द्वारा अभी लिखित आवेदन नही दी गयी है। पुलिस मामले की छानबीन कर रही है। आवेदन देते ही मामला दर्ज कर दोषी पर कारवाई किया जाएगा। घटना के बाद गांव में काफी तनाव बना था। घटना के जानकारी मिलते ही प्रखंड विकास पदाधिकारी मो. शमशीर मलिक ने मृतक युवक के परिजनों से मिलकर पारिवारिक लाभ व कबीर अंत्येष्टि के तहत तीन हजार दिये जाने की घोषणा किया।