Header Ad

header ads

अलीगंज : रबी फसल पर बरसा भगवान इन्द्र का प्रकोप, किसान चिंतित

अलीगंज (चन्द्रशेखर सिंह) :- प्रखंड क्षेत्र में इन दिनों रवि फसल में मसूर ,चना ,अरहर एवं गेहूँ के फसल लगभग तैयार होकर पक चुके थे। मसूर की कढाई कर किसानों ने अपने खलिहान में इकट्ठा करने में व्यस्त थे, की अचानक इन फसल और फ़सलदारों पर भगवान इन्द्र का प्रकोप बरस पड़ा।

दरअसल, बीते दो दिनों से बेमौसम बारिश होने से किसानों की चिन्ता बढ़ गयी है। फसल को नुकसान हो रहा है। किसान ब्रह्मदेव सिंह, धर्मेन्द्र कुशवाहा, परमेश्वर यादव, दिनेश सिंह आदि ने बताया कि इस समय रवि फसल पक कर तैयार हो जाता है। जैसे मसूर की कढाई का कार्य जोरो पर की जा रही थी, और मसूर की कढाई कर अपने खलिहानों में जमा कर दिया है, लेकिन अचानक बेमौसम बारिश से नुकसान पहुंचा है।
ब्रह्मदेव् सिंह, किसान

 किसानों का कहना है कि सर्दी वाले पौस और माघ में थोड़ी बरसात से गेहूं,सरसों और अन्य रवि फसलों को फायदा पहुंचता है। मगर इस बार बेमौसम बारिश कई गुणा अधिक हो चुकी है, और अब भी थमने का नाम नही ले रही है। इससे किसान परेशान है। खेतों में गेहू पका खड़ा है या पकने की ओर है।ऐसे में कृषि वैज्ञानिकों के सलाह होती है कि पके रवि फसल में पानी के जमाव से नुकसान होती है। बेमौसम बारिश से गेहूं के अलावा जौ , सरसों, मसूर , चना, आलु, मटर , अरहर , फुलगोभी, टमाटर , पताकोभी आदि सब्जियों में भी नुकसान पहुंचा है। इस बारिश के दौरान तेज हवा से गेहूं के पके फसल खेतों में चटाई की तरह बिछ गयी है।
मनोज महतो, किसान

किसान प्रभुदयाल सिंह ने बताया कि प्रखंड में तीन वर्षो  से पर्याप्त वर्षा नही होने खरीफ फसल नही हो रही है। थोड़ी सी उम्मीद रवि फसल पर किसानों की जगी थी। लेकिन दिनों से लगातार बेमौसम बारिश ने किसानों के उम्मीदों पर पानी फेर दिया है और मसूर ,गेहूं की पके फसल को चौपट कर दिया है।