बड़ी खबरें

गिद्धौर के राजमिस्त्रियों को मिला भूकंपरोधी मकान बनाने का प्रशिक्षण


न्यूज़ डेस्क | अभिषेक कुमार झा】 :-

बिहार राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के तहत बुधवार को गिद्धौर प्रखंड कार्यालय के सभा भवन में राजमिस्त्री के लिए सात दिवसीय गैर आवासीय प्रशिक्षण का शुभारंभ किया गया। कार्यक्रम का उद्घाटन प्रखंड प्रमुख शम्भू केशरी, अंचल अधिकारी अखिलेश सिन्हा सहित विभागीय कर्मियों द्वारा संयुक्त रूप से किया गया।

इस संदर्भ में जानकारी देते हुए अंचल अधिकारी अखिलेश सिन्हा एवं ट्रेनिंग इंचार्ज ई. राजनारायण ने संयुक्त रूप से बताया कि गिद्धौर प्रखंड के 30 अनुभवी राजमिस्त्रियों के लिए भूकंपरोधी निर्माण एवं रेट्रोफिटिग तकनीक पर भवन निर्माण को लेकर विभाग द्वारा प्रशिक्षण की व्यवस्था की गई है।
 बुधवार को हुए पहले दिन के प्रशिक्षण में आपदा से सुरक्षित भवन निर्माण तकनीक के साथ ही मानक निर्माण तकनीक पर वर्ग कार्य एवं अभ्यास कराए गए, ताकि समाजिक स्तर पर मजबूत भवन संरचना निर्माण की परिपाटी विकसित हो सके।
वहीं मौके पर मौजूद ई. प्रशान्त सिंह में बताया कि आपदा प्रबंधन के बदले परिदृश्य में भूकंप रोधी भवनों का निर्माण एवं पूर्व में निर्मित मकानों का रिट्री फिटिंग कर उन्हें भूकंप रोधी बनाया जाना एक सकारात्मक पहल है जिसके लिए यह आवश्यक हो जाता है कि निर्माण कार्य में संलग्न सभी साझेदारों का क्षमता वर्धन किया जाए एवं संवेदक को तथा आमजन को भूकंप रोधी भवनों के निर्माण के संदर्भ में जागरूक किया जाए।
कार्यक्रम में भाग ले रहे कर्मियों ने बताया कि सभी प्रशिक्षु राजमिस्त्रियों को मार्ग व्यय एवं रोजगार क्षतिपूर्ति के रूप में 700 रुपये प्रतिदिन की दर से चेक पेमेन्ट किया जाएगा।
मौके पर प्रखण्ड प्रमुख शम्भू केशरी, अंचल अधिकारी अखिलेश सिन्हा, ट्रेनिंग इंचार्ज ई. राजनारायण, इंजीनियर प्रशांत सिंह, ट्रेनर गया प्रजापति सहित अन्य प्रशिक्षण प्राप्तकर्त्ता में अशोक राम, सुनील कुमार रावत, गणपत झा, महेश रावत, योगेन्द्र तांती, राधारमण सिन्हा, श्याम सुन्दर यादव, धर्मेन्द्र कुमार झा, जदू यादव आदि मौजूद थे।