बड़ी खबरें

अलीगंज : पूर्व मुखिया के पति की धारदार हथियार से हत्या, ग्रामीणों में आक्रोश



अलीगंज (चंद्रशेखर आज़ाद) :-

गुरुवार की रात्रि चंद्रदीप थाना क्षेत्र के चौरासा गांव निवासी सह पूर्व मुखिया पति नवल रविदास को अपराधियों ने धारदार हथियार से सिर पर मारकर हत्या कर दिया गया।


मृतक की पत्नी पूर्व मुखिया सबूजा देवी बताती हैं कि गुरुवार की शाम 6 बजे घर से किसी किसी ने मोबाइल पर बात कर बुलाने पर कुछ देर में आने की बात कहकर वह गांव से पश्चिम बहियार की ओर गये थे। देर रात तक नही आने पर उनके मोबाइल पर फोन जा रहा था, लेकिन मोबाइल फोन रिसीव नही किया जा रहा था। काफी खोजबीन किया लेकिन देर रात तक पता नहीं चल सका।  शुक्रवार की सुबह जब ग्रामीण बहियार की ओर गये तो देखा कि नवल का शव मेढ के किनारे रखा हुआ है। परिजनों ने वहां जाकर देखा और पुलिस को सूचित किया गया। पुलिस घटना स्थल पर पहुंचकर मामले की छानबीन कर रही है।

- बोले ग्रामीण -

ग्रामीणों ने बताया कि घटना स्थल व शव देखने से साफ प्रतीत होता है कि इस घटना का अंजाम किसी अन्यत्र  जगहों पर कर अपराधियों द्वारा मृतक के शव को गांव के बहियार में लाकर  मेढ किनारे फेंक दिया गया है।  मृतक की हत्या  अपराधियों के द्वारा धारदार हथियार से बेरहमी से की गई है।शव को बरामद होने के बाद परिजनों में जहां मातम का महौल है।

- ग्रामीणों ने किया सड़क जाम -

घटना पर आक्रोशित ग्रामीणों ने परसामा गांव के समीप नवादा-सिकंदरा मुख्यमार्ग को जाम कर दिया। मृतक की पत्नी पूर्व मुखिया सबूजा देवी व बेटी अंजलि कुमारी द्वारा बताया गया कि दो दिन पहले चंद्रदीप बाजार स्थित मीणा ट्रेडर्स के संचालक सीमेंट व्यवसायी अनिल साव से सीमेंट की पैसा बकाया को लेकर बकझक हुई थी, बात धमकी तक आ गयी थी।मृतक के पत्नी व बेटी के द्वारा हत्या में साजिश रचने व करवाने का आरोप सीमेंट व्यवसायी पर लगाया जा रहा है।

- बोले थानाध्यक्ष -

थाना अध्यक्ष सुनील कुमार कहते हैं कि शव को कब्जे में लेकर मामले की छानबीन की जा रही है।  घटना स्थल पर खोजी कुत्ता बुलाकर मामले की छानबीन की जाएगी।


क्या खोजी कुत्ते के ही भरोसे हत्याकांड की गुत्थी सुलझाएगी पुलिस ?

नवल रविदास की हत्या मामले की जांच के खोजी कुत्ता बुलाकर मामले की जांच करने में चंद्रदीप पुलिस जुट गयी है। अब देखना है कि हत्या में संलिप्त अपराधियों तक पुलिस पहुंच पाती है या नही। हालांकि पुलिस जमुई से खोजी कुत्ता लाकर मामले की तफतीश में काफी जोर शोर से जूटी हुई है।
बता दें कि बीते गुरूवार की शाम मोबाइल से बुलाकर नवल रविदास को पहले अपराधियों ने अपने कब्जे में लिया ,फिर धारदार हथियार से मारकर उन्हें मौत के घाट उतार दिया गया। शव को उसके गांव के पश्चिम बहियार में फेंक दिया गया था। सुबह परिजनों के जानकारी ग्रामीणों के द्वारा बहियार में मेढ के नीचे रखे होने की सूचना दी। अब ग्रामीणों के मन में ये प्रश्न है कि क्या खोजी कुत्ते के ही भरोसे हत्याकांड की गुत्थी  सुलझाने में पुलिस सफल हो सकेगी।