बड़ी खबरें

मंगल पांडेय का आरोप -सोशल काम छोड़ सिर्फ सोशल मीडिया पर लोगों को भड़का रहा राजद

पटना | अनूप नारायण : राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद के बयान पर पलटवार करते हुए श्री पांडेय ने कहा कि लालू प्रसाद ‘उल्टे चोर कोतवाल को डांटे’ वाली कहावत को चरितार्थ कर रहे हैं। श्री पांडेय ने लालू प्रसाद को श्री 420 बताते हुए कहा कि खुद तो भ्रष्टाचार जैसे गंभीर मामलों में होटवार जेल के चिंतन गृह में प्रायश्चित कर रहे हैं, लेकिन ट्वीटर के जरिये प्रवचन देने से बाज नहीं आ रहे हैं। उन्हें मालूम होना चाहिए कि मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री की जोड़ी ने न सिर्फ भ्रष्टाचार को जड़ से उखाड़ फेंकने का काम किया, बल्कि उनके जैसे नटवरलाल को भी ठिकाना लगाने का काम कर रहे हैं।
      श्री पांडेय ने कहा कि जो व्यक्ति जैसा रहता है, दूसरों के बारे में वैसा ही सोच रखता है। रही बात मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री की, तो दोनों नेताओं को लालू प्रसाद से सर्टिफिकेट लेने की जरूरत नहीं है। दोनों नेताओं को जहां जनता विकास पुरूष का सर्टिफिकेट दे चुकी है। वहीं न्यायालय ने लालू प्रसाद को एक मुजरिम करार देते हुए काल कोठरी भेज दिया है। श्री पांडेय ने कहा कि यह अच्छा रहा कि राज्य की जनता ने समय रहते राजद को सत्ता से बाहर का रास्ता दिखा दिया, वरना अगर 15 साल और मियां-बीवी और बच्चे की सरकार रहती, तो इसमें कोई शक नहीं कि बिहार एक कंगाल प्रदेश के नाम से जाना जाता।
     श्री पांडेय ने कहा कि कल तक सोशल मीडिया और ट्वीटर को बकवास बताने वाला लालू फैमिली इन दिनों सोशल काम छोड़ सिर्फ और सिर्फ सोशल मीडिया के जरिये लोगों की भावनाओं को भड़काने में लगा हुआ है। राज्य की जनता ने राजद को जो दायित्व दिया है, उसे छोड़ राजद के नेतागण सोशल मीडिया के जरिये हवा-हवाई राजनीति कर रहे हैं। पूरा राजद परिवार मनगढंत बातें कर लोगों को बरगला रहा है, लेकिन सूबे की जनता ऐेसे नेताओं को आगामी चुनाव में इस कदर जवाब देगी कि बगले झांकते नजर आएंगे। इसलिए लालू प्रसाद के लिए अच्छा रहेगा कि दूसरों को प्रवचन देने से पहले खुद आत्मसात करें।