बड़ी खबरें

जमुई : अल्पसंख्यक समुदाय के लोग आक्रोशित, नरेन्द्र-सुमित के मामले पर दिया धरना

(जमुई/चन्द्र शेखर आज़ाद) :-

 पूर्व मंत्री नरेंद्र सिंह जी और उनके पुत्र पूर्व विधायक सुमित कुमार सिंह जी पर जिस तरह एक फ़र्ज़ी मुक़दम फंसाने की कोशिश से मर्माहत हैं मुस्लिम समुदाय। आज उनके प्रतिरोध में जमुई स्थित दिवंगत विधायक अभय सिंह प्रतिमास्थल पर बड़ी तादाद में जुट कर आयोजित धरना कार्यक्रम में शामिल हुए। उन्होंने जुमा का नमाज़ भी महान समाजवादी नेता श्रीकृष्ण सिंह की प्रतिमा के समक्ष अदा किया। वह सब इतने आक्रोशित थे कि नमाज़ अदा करने मस्जिद भी नहीं गए, बल्कि श्रीकृष्ण सिंह स्टेडियम मे  ही वह दायित्व भी पूरा किये।

मौके पर उपस्थित मोहम्मद गुफरान जी ने कहा कि ईमानदार, इज़्ज़तदार पूर्व मंत्री नरेंद्र सिंह और उनके पुत्र पूर्व विधायक सुमित कुमार सिंह की सामाजिक प्रतिष्ठा और लोकप्रियता को धूमिल करने के लिए साजिशन ऐसे आधारहीन मामले में उन्हें फंसाने की कोशिश की गई है। नरेंद्र सिंह जमुई जिले के अभिभावक हैं तो सुमित सिंह सबसे बड़े सेवक। जमुई जिला में अमन-चैन, सौहार्द-शांति है तो इसमें इन दोनों की प्रमुख भूमिका है। दोनों ने मिलकर जमुई जिले के अपराध और हिंसा के दलदल से उबारा है। विकास पथ पर आगे बढ़ाया। विगत चुनाव में अपेक्षा अनुरूप परिणाम न आने एवं किसी पद पर न होने के बावजूद उन्होंने किसी भी जनप्रतिनिधि से अधिक जनता के बीच उनकी सेवा, सुरक्षा और सहायता को तत्पर रहे। यह है उनकी विशिष्टता। वहीं मोहम्मद जरीफ जी ने कहा कि कुछ लोग सुमित कुमार सिंह के जबरदस्त लोकप्रियता से घबराए हुए कुत्सित मानसिकता के लोगों ने यह षड्यंत्र रचा है। लेकिन सबको मुंह की खानी पड़ेगी। अगर जल्द-से-जल्द न्याय नहीं मिला, नरेंद्र सिंह और सुमित सिंह को आरोपमुक्त नहीं किया गया एवं इस षड्यंत्र में शामिल पुलिस अधिकारियों पर कार्रवाई नहीं हुई तो जमुई के लोग सड़कों पर उतर सबकुछ ठप्प कर देंगे।*