बड़ी खबरें

मांगोबंदर : मां शारदे की पूजा से भक्ति मय हुआ माहौल, पूजा समिति सक्रिय


मांगोबंदर/न्यूज़ डेस्क ( शुभम मिश्र) :-

बसंत का आगमन प्रकृति में नया रोमांच पैदा करता है। बसंत सृजनकर्ता है। ऋतुओं का राजा बसंत परिवर्तन का अग्रदूत है। इस ऋतु में पेड़ो में नवांकुरित पत्ते, मदमस्त हवाओं में झूमते पीले सरसों के फूल और सूर्यदेव की मीठी धूप मन और तन को नयी ताजगी प्रदान करती है। बसंत के पांचवें दिन विद्या की देवी की पूजा की जाती है। या यूं कहें कि प्रत्येक साल माघ मास के शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि से बसंत का आगाज़ हो जाता है।


 इस बार यह उत्सव 30 जनवरी को मनाया जा रहा है। हर साल की तरह इस साल भी जिले के खैरा प्रखंडान्तर्गत मांगोबंदर गांव में विभिन्न स्थानों में मूर्ति स्थापित कर पूजा की जा रही है। प्रत्येक वर्ष गाँव के सुन्दरडीह,राजपूत टोला, यादव टोला,पांडेय टोला में पूजा पंडाल बनाकर माँ शारदे की मूर्ति स्थापित कर पूजा अर्चना की जा रही है। रंग-बिरंगी बिज़ली की लड़ियों से पूजा पंडाल को सजाया गया है।


ध्वनि विस्तारक यंत्रों से भक्ति गीत एवं जयघोष के नारे लगाये जा रहे हैं। इस बार कचहरी क्लब मांगोबंदर की मूर्ति पूजा,ठाकुरबाड़ी में की जा रही है। वहीं नवयुवक क्रांति दल राजपूत टोले का पूजा पंडाल पूर्ववत कन्या मध्य विद्यालय मांगोबंदर के पास बनाया गया है।
इस बाबत समिति के अध्यक्ष गोरेलाल सिंह, सदस्य सुमित सिंह, पिण्टू सिंह, मनोहर सिंह, निवास सिंह आदि ने बताया कि हमलोगों को अपने भीतर की अज्ञानता को हटाने के लिए कृतसंकल्पित होना चाहिए। इस बार हमलोगों ने पर्यावरण बचाने का संकल्प लिया है। वहीं पूजा पंडाल में बने चित्र एवं मूर्ति के द्वारा लोगों को जल संचयन एवं वृक्ष लगाने हेतु जागरूकता संदेश भी दिया जा रहा है।


दूसरी ओर कचहरी क्लब मांगोबंदर के अध्यक्ष सुनील मोदी ने बताया कि स्थान सर्वोपरि होने के कारण इस बार का कार्यक्रम हमलोग ठाकुरबाड़ी में कर रहे हैं।ठाकुरबाड़ी में इस बार छोटी बच्चियों के द्वारा बनायी गयी रंगोली खासी आकर्षण का केंद्र बनी हुई है।लोग इस कलाकारी की प्रशंसा करते नहीं थक रहे हैं।मुख्य रूप से बच्चियों ने हरे वृक्ष बनाकर पर्यावरण बचाने को लेकर लोगों को जागरूक किया है।
बताते चलें कि पंचायत के मध्य विद्यालय मांगोबंदर में भी मूर्ति स्थापित की गई है। सवेरे से ही लोगों की भीड़ पूजा पंडालों में देखने को मिल रही है। शाम में सभी पूजा पंडालों की जगमगाती रोशनी को देखकर ऐसा लग रहा है कि अज्ञानता के अंधकार को दूर भगाने का संदेश देती नज़र आ रही है।


कचहरी क्लब मांगोबंदर के सदस्य ब्रजेश मोदी, पल्टू मोदी, कुंजबिहारी, बिक्की पासवान, बिट्टू राम, विकास रावत, मन्ना रावत, विकास मोदी, रंजन, नीतीश, राजीव आदि ने बताया कि समिति के द्वारा श्रद्धालुओं के सुविधाओं को देखते हुए व्यवस्था की गई है। समिति के सभी भाॅलेनटियर की सकारात्मक सक्रियता देखी जा रही है,जिससे लोगों में खासा उत्साह देखा जा रहा है।