बड़ी खबरें

आर्थिक रूप से पिछड़ों को कोई नहीं रोक सकता डॉक्टर-इंजीनियर बनने से, जानिए कैसे


पटना | अनूप नारायण :
एक अभियान एक आंदोलन कैसे बन जाता है इस चीज को महसूस करना है तो इस अभियान से जुड़िए जो बिहार के प्रतिभाओं को उचित प्लेटफार्म दिलवाने के लिए जिला स्तर पर टैलेंट सर्च अभियान चला रहा है.अब बिहार के सुदूर ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले प्रतिभा संपन्न छात्रों को आर्थिक कारणों से इंजीनियर व डॉक्टर बनने से कोई नहीं रोक सकता उनकी प्रतिभा को पुष्पित और पल्लवित करने के लिए महा अभियान की शुरुआत बिहार के कुछ उत्साही युवाओं ने प्रारंभ की है।स्पेक्ट्रम मैथमेटिकल ओलंपियांड 2020 के माध्यम से स्पेक्ट्रम एकेडमी एडुसोल्यूशन बिहार के जिलों में तलाश रहा है मेडिकल और इंजीनियरिंग की तैयारी करने की मंशा रखने वाले प्रतिभा संपन्न छात्रों को जो आर्थिक कारणों से डाक्टर और इंजीनियर बनने से रह जाते हैं वंचित. बिहार के सर्वश्रेष्ठ शिक्षकों की टीम जिसमे बिहार के टॉप शिक्षक दिलीप कुमार मिश्रा (dkm sir) मैथ, कुमार सौरभ(krs sir) फिजिक्स, एम करीम केमिस्ट्री, सुरेंद्र जायसवाल (sj sir)केमिस्ट्री प्रभात कुमार (pk sir)बायोलॉजी शामिल है बिहार के जिलों में टैलेंट सर्च अभियान चलाकर प्रतिभा संपन्न छात्रों को तलाश रहे जिन्हें स्पेक्ट्रम एकेडमी एडु सॉल्यूशन बोरिंग रोड पटना में मेडिकल और इंजीनियरिंग की तैयारी कराई जाएगी. इस महा टैलेंट सर्च अभियान में इस वर्ष सीबीएसई आईसीएसई बिहार बोर्ड में दसवीं की परीक्षा देने वाले छात्र शामिल हो सकते हैं जिनके लिए बिहार के 38 जिलों में यह अभियान चलाया जा रहा है.

 16 जनवरी 2020 को इस अभियान के तहत मोतिहारी जिले के मोतिहारी बंजरिया थाना के सामने अवस्थित एकता मैरेज  हॉल में दोपहर 1:00 बजे से 4:00 बजे तक टैलेंट सर्च अभियान सह सेमिनार का आयोजन किया गया है. 22 जनवरी को बेतिया जिला मुख्यालय के सुप्रिया होटल में जो सुप्रिया सिनेमा हॉल के बगल में है.दोपहर 1:00 बजे से 4:00 बजे तक तथा 26 जनवरी को छपरा जिले के नगरपालिका चौक पर अवस्थित अशोका ग्रांड होटल में दोपहर 1:00 बजे से 4:00 बजे तक
टैलेंट सर्च अभियान सेमिनार का आयोजन किया गया है 28 जनवरी को सिवान और 2 फरवरी को गोपालगंज के छात्र अपने जिला मुख्यालय में आयोजित सेमिनार में भाग लेकर ऑन स्पॉट अपने प्रतिभा के दम पर अपने भविष्य का निर्णय कर पाएगे. यह अभियान बिहार के सभी जिले में संचालित होना है अभियान के प्रमुख दिलीप कुमार मिश्रा व कुमार सौरभ ने बताया कि बाजारवाद के इस दौर में बिहार के प्रतिभाएं उचित मार्गदर्शन और बेहतर संस्थान तक नहीं पहुंच पाने के कारण कुण्ठित हो जाते है उनकी प्रतिभा का सही मूल्यांकन नहीं हो पाता है और जो बच्चे उचित प्रोत्साहन और मार्गदर्शन में इंजीनियरिंग और मेडिकल की परीक्षाओं में बेहतर कर सकते हैं वह भटक जाते हैं इसी भटकाव को रोकने के लिए स्पेक्ट्रम एकेडमी यह महा अभियान बिहार के सभी जिले में चला रही है इस महाअभियान के तहत सेमिनार में छात्रों से विषय के विशेषज्ञ रूबरू होंगे उनसे सवाल-जवाब होंगे और प्रतिभा संपन्न छात्रों को ऑन स्पॉट स्कॉलरशिप भी प्रदान की जाएगी जिसके आधार पर वे पटना में रहकर सदस्य शिक्षकों के साथ मेडिकल और इंजीनियरिंग परीक्षाओं की तैयारी करेंगे उनके संस्थान ने बिहार के प्रतिभा संपन्न और साधन विहीन छात्र-छात्राओं के लिए अपने दरवाजे खोल रखे है. उनका मानना है कि पैसे के अभाव के कारण आप किसी भी टैलेंट को दरकिनार नहीं कर सकते हैं. जिले में संचालित होने जा रहे इस महा टैलेंट सर्च अभियान का इवेंट पार्टनर अरनव मीडिया एंड इंटरटेनमेंट है.