बड़ी खबरें

स्वच्छता पखवारा के अंतर्गत मलयपुर कैंप परिसर में सीआरपीएफ ने किया वृक्षारोपण


जमुई : सोमवार को स्वच्छता पखवाड़े के अंतर्गत कमांडेंट मुकेश कुमार के दिशा-निर्देश पर द्वितीय कमान अधिकारी कन्हैया सिंह के नेतृत्व में 1000 पेड़ों का वृक्षारोपण किया गया. इस अवसर पर श्री कन्हैया सिंह द्वितीय कमान अधिकारी 215 बटालियन ने जवानों को संबोधित करते हुए कहा कि वृक्षों के अभाव में आज का वातावरण प्रदूषित होता जा रहा है जिसका प्रभाव सभी जीव धारियों पर पर रहा है. वृक्ष वायु के प्राकृतिक शोधक होते हैं. यह वायु के हानिकारक कार्बन डाइऑक्साइड का शोषण करके लाभदायक ऑक्सीजन छोड़ते हैं.

उन्होंने कहा कि ऑक्सीजन ही जीवन है और जीवधारी उसे लेकर जीवित रहते हैं. वृक्षारोपण मानव समाज का संस्कृतिक दायित्व है. वृक्षारोपण और उनके संरक्षण से सृष्टि को अकाल भावी विनाश से बचाया जा सकता है. वृक्षों के बिना धरती पर जीवन की कल्पना करना असंभव है. वृक्ष धरती की अमूल्य संपदा के समान है. वृक्षों के कारण ही मनुष्य को अपनी आधारभूत आवश्यकताओं को पूरा करने के संसाधन प्राप्त होते हैं. अतः पृथ्वी पर वृक्षों की पर्याप्त संख्या में होना बहुत आवश्यक है. इस पखवारा के तहत 215 बटालियन द्वारा जमुई जिला के विभिन्न सार्वजनिक स्थानों पर वृक्षारोपण किया जा रहा है.
श्री कन्हैया सिंह द्वितीय कमान अधिकारी ने इस कार्यक्रम के माध्यम से आम लोगों से भी अपील किया है कि वह लोग भी अपने अपने हाथों से कम से कम एक-एक वृक्ष लगावे ताकि वृक्षों के अभाव में वातावरण प्रदूषित होने से रोका जा सके.
इस अवसर पर श्री ललन कुमार द्वितीय कमान अधिकारी, श्री विनोद कुमार सहायक कमांडेंट एवं अधीनस्थ अधिकारी व 215 बटालियन सीआरपीएफ के जवान उपस्थित थे. साथ ही सोमवार को इस अवसर पर 215 बटालियन के सभी कंपनियों ने जमुई जिले के अलग-अलग स्थानों पर वृक्षारोपण किया. इस दौरान लगभग 1000 पौधे लगाए गए.