Breaking News

6/recent/ticker-posts

अलीगंज : श्रावण में भी प्यासे हैं खेत, नहीं हुई धान की रोपनी

[अलीगंज | चन्द्रशेखर सिंह]  Edited by- Abhishek Kumar Jha

प्रखंड क्षेत्र में पर्याप्त बारिश नही होने के कारण धान की रोपनी किसान अपने खेतों में नही कर पा रहें हैं।कर्ज से धान के बिचडा तो गिरा दिया लेकिन धान रोपनी के लिए बारीश नही होने के कारण धान का बिचडा खेतों में ही सुख रहे हैं। किसान ब्रह्मदेव सिंह,श्यामसुंदर सिंह,धर्मेन्द्र कुशवाहा,महेन्द्र यादव,गोरेलाल यादव,मनोज यादव ,प्रभुदयाल सिंह ने बताया कि सावन में भी खेतों की प्यास नही बुझ पाई है।तो धान की रोपनी कैसे होगी। हमलोगों ने बड़े ही उमंग से कीमती धान का बीज खरीद कर खेतों में धान का बिचडा तैयार किया, लेकिन धान रोपनी के लिए पर्याप्त बारिश नही हुई ।और सावन के अंतिम  होने को है और बारिश नही हुई । जिसके कारण प्रखंड क्षेत्र में धान की रोपनी नगण्य के बराबर है।किसान एकटक आसमान पर निगाहें टिका बैठे हैं लेकिन इंद्र भगवान नाराज हैं। किसानों ने बताया अब के समय धान के पौधे खेतों में हरियाली छा जाती है। जो मरूभुमि की तरह मैदान बना हुआ है।किसान कर्ज से लदे जा रहे हैं। बारिश कम होने से लोगों के बीच पेयजल भी एक समस्या बनती जा रही है।
बता दें किसानों के जनसमस्या को ध्यान में रखकर नेता शशिशेखर सिंह मुन्ना ने सरकार से जिले को सुखाड घोषित करने की मांग की थी।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ