Breaking News

सोनो : झामुमो नेता बैकुंठनंदन सिंह पंचतत्व में विलीन,बेटे ने दी मुखाग्नि


सोनो (न्यूज़ डेस्क) Edited by- Shubham Mishra :-

झामुमो नेता व बिहार एवं झारखंड राज्य के विद्युत सप्लाई यूनियन के महामंत्री बैकुंठनंदन सिंह की लंबी बीमारी के बाद मंगलवार को रांची में निधन हो गया। जिनका अंतिम संस्कार बुधवार को गंगा नदी सिमरीया घाट पर उनके पुत्र सह लोजपा नेता मुन्ना सिंह द्वारा मुखाग्नि देकर की गई। मंगलवार को झामुमो पार्टी कार्यालय राँची में उनके शव को अंतिम दर्शन के लिए रखा गया था। जहां उनके समर्थकों एवं पार्टी के वरिष्ठ नेताओं द्वारा भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की गई।

बुधवार को उनके पार्थिव शरीर को पैतृक गांव जमुई जिले के केवाली गांव में परिवार एवं क्षेत्रीय लोगों हेतु अंतिम दर्शन के लिए भी लाया गया। जहां पार्थिव शरीर के पहुंचने से पूरे गांव में मातम छा गया है। इस बाबत पूछे जाने पर ग्रामीणों ने कहा कि हमलोगों ने एक अच्छे समाजसेवी एवं जुझारू नेता को खो दिया है। 

【चकाई विधानसभा से भी चुनाव लड़े थे 】

वर्ष 1980 एवं 1985 में झामुमो की टिकट से चकाई विधान सभा की चुनाव भी लड़े थे।वे पूर्व विधायक स्व०फाल्गुनी प्र०यादव के सहपाठी व अच्छे मित्र रह चुके थे। वे हमेशा गरीब, दलित, शोषित, वंचितों के लिए हमेशा लड़ाई लड़ते रहते थे एवं लोगों को समाजिक कार्य में बढ़-चढ़ कर भाग लेने के लिए प्रेरित करते थे। वे अपने पीछे विधवा पत्नी के आलावे एक पुत्र व दो पुत्री को छोड़कर चले गए हैं। 

शोक व्यक्त करने वालों में स्थानीय भाजपा किसान मोर्चा के जिला अध्यक्ष रंजीत सिंह, झामुमो नेता ओंकार बर्णवाल, नेपाली सिंह, गोपाल शरण पाण्डेय, पूर्व प्राधानाध्यपक अरुणदेव राय, राजद नेता सीताराम यादव, पूर्व जिला परिषद पोषण प्र०यादव, लुकस सोरेन, बाबू लाल किस्कू, जदयू नेता विभूति सिंह,पूर्व उपप्रमुख दीपक सिंह, अधिवक्ता बलराम पाण्डेय ,भाजपा नेता विकास सिंह, लोजपा जिला अध्यक्ष रुवेन सिंह, लोजपा प्रदेश सचिव दिलीप पासवान,जीवन सिंह, मनोज यादव आदि ने उनके निधन पर शोक संवेदना व्यक्त किया। स्थानीय विधायिका सावित्री देवी ने उनके निधन पर कहा कि बैकुंठ बाबू हमेशा समाजिक सरोकार से जुड़े रहते थे।ईश्वर से प्रार्थना करते हैं कि उनके परिजनों को इस दुःख की घड़ी को सहने की शक्ति दे।