Breaking News

पटना : सीमित संसाधन में भी जलप्रलय प्रभावितों को मदद पहुंचा रही छपरा के युवाओं की टोली


पटना [सुशान्त साईं सुन्दरम] :
अगर आप छपरा के रहने वाले है तो जिले के इन युवाओ पर गर्व कर सकते हैं। एक तरफ जहां पटना में जल प्रलय आया हुआ है, लोग बयानबाजी में परेशान है। वही आपके जिले के मुट्ठी भर लोग सीमित संसाधनों के बावजूद पटना वासियों की सेवा के लिए विगत 7 दिनों से जी जान से लगे हुए हैं। इन लोगों के काम करने का तरीका काफी अनूठा है। लोगों ने अभी तक 40 से ज्यादा लाचार बेबस और जल प्रलय में फंसे लोगों को रेस्क्यू करके अपने दम पर बाहर निकाला है और निजी अस्पतालों में अपने खर्च पर इलाज भी करा रहे हैं। यह युवा हैं छपरा जिले के मशरख प्रखंड के अरना पंचायत के बरका अरना गांव निवासी पत्रकार व फिल्मकार अनूप नारायण, मानोपोली पिपरा गांव निवासी शैलेश कुमार सिंह, एकमा थाना के सरयूपार गांव निवासी डॉ विजय राज सिंह।

सारन हेल्पलाइन के बैनर तले यह लोग पटना के कंकड़बाग, हनुमान नगर, राजेंद्र नगर, बहादुरपुर, बाजार समिति, नेपाली नगर इलाकों में अभी तक 5000 से ज्यादा घरों में दूध, बिस्किट, दवाई, पीने का पानी पहुंचा चुके हैं। अभियान के संयोजक अनूप नारायण ने बताया कि इन दिनों पटना में उनके फिल्म की शूटिंग चल रही थी। लेकिन जैसे ही पटना में जल प्रलय की खबर आई पूरी यूनिट सभी कामों को छोड़कर लोगों की सहायता में लग गई। छपरा के कई समाजसेवियों ने उनके इस अभियान को मदद किया है जिसमें चिकित्सक डॉक्टर सुजाता प्रमुख हैं। इनकी पहल पर भोजपुरी फिल्मों के गायक व नायक पवन सिंह एवं खेसारी लाल यादव भी पटना वासियों की सहायता के लिए आगे आए हैं। उनके टीम के प्रमुख सदस्य छपरा निवासी गीतकार पवन पांडेय के नेतृत्व में 4 दिनों से राहत कार्य चलाया जा रहा है। सारण हेल्प लाइन के बैनर तले फिल्मकार शाहिद शम्स, भोजपुरिया काका अरुण सिंह, पटना ग्रीन हाउसिंग व बिहार यूथ बिल्डर एसोसिएशन के अध्यक्ष  भूषण कुमार सिंह बबलू, गंगा मुक्ति आंदोलन के प्रणेता विकास चंद्र गुड्डू बाबा, अंजू देवी, विवेक विश्वास, रजनीश राजपूत, विशाल सिंह परमार, नीतीश कछवाहा, विनय बिहारी भैया टीम बनाकर लोगों की सहायता कर रहे हैं।

कमिटी बना कर  एक मोहल्ले में एक टीम गठित की गई है जो नियमित रूप से जब तक जल निकासी नहीं हो जाती है लोगों को पीने का पानी, खाने का पैकेट, दवाई और दूध उपलब्ध करा रही है। सावन हेल्पलाइन की पहल पर पटना की कई निजी अस्पतालों ने जल प्रलय से प्रभावित लोगों के नि:शुल्क इलाज के साथ ही साथ उन्हें अपने यहां एडमिट कर दवाई और खाना भी उपलब्ध करवाया है। अनूप बताते हैं कि संकट की इस घड़ी में सरकार को कोसने से  बेहतर है कि आप अपने स्तर से पीड़ित मानवता की सेवा करें। यह प्राकृतिक आपदा है और आपदा की इस घड़ी में पूरा बिहार एक है। सारण हेल्पलाइन के बैनर तले भोजपुरी कलाकारों का जत्था जिसमें बिग गंगा के प्रमुख राजीव मिश्रा, अभिनेत्री डॉ. ख्याति सिंह जो तरैया थाना के आकुचक गांव की निवासी हैं, श्यामली श्रीवास्तव, मसरख के राकेश तिवारी, एलिट के अमरदीप झा गौतम, डॉ. एम रहमान, अनिल पाल, पूनम दुबे, गुंजन पंत, अभिनेता रोहित राज यादव शामिल है.

अनूप ने बताया कि पटना में अभी भी हालात काफी बदतर है और सबसे बड़ी समस्या जलजमाव वाले इलाके में जानवरों के मरने के बाद उत्पन्न हुई दुर्गंध महामारी है। जिसे दूर करने के लिए ब्लीचिंग पाउडर का छिड़काव किया जा रहा है तथा चिकित्सकों के द्वारा लोगों को दवाई दी जा रही है।