Breaking News

युवाओं के प्रेरणास्रोत हैं राष्ट्रपति पदक से सम्मानित सूबेदार मेजर नीरज

पटना [अनूप नारायण] :
पटना जिले के बाढ़ अनुमंडल के बिचली मलाही गांव निवासी श्री राम कुमार सिंह के घर पुत्र रत्न के रूप में जन्मे नीरज कुमार सिंह सीआरपीएफ में है. अपने अदम्य साहस वीरता के कारण के राष्ट्रपति पदक से भी सम्मानित हो चुके है। इन्हें 26 जनवरी 2017 को भारत के राष्ट्रपति महोदय ने वीरता के लिए पुलिस पदक से सम्मानित किया था तथा 9 अप्रैल 2018 को उपराष्ट्रपति श्री एम वेंकैया नायडू ने इन्हें शौर्य दिवस पर सम्मानित किया.

वर्तमान में यह सूबेदार मेजर के पद पर पुलिस महानिरीक्षक कार्यालय, सीआरपीएफ में तैनात है. बचपन से ही कुशाग्र बुद्धि के नीरज ने अपना लक्ष्य निर्धारित कर लिया था स्कूल के दिनों से ही यह देश सेवा में जाना चाहते थे सीआरपीएफ में कार्यरत होने के बावजूद यह सामाजिक गतिविधियों में भी काफी सक्रिय रहते हैं देश प्रेम की भावना से ओतप्रोत नीरज ने पीड़ित माता की सेवा के लिए भी कोई उल्लेखनीय कार्य किया है युवाओं में भटकाव रोकने के लिए यह कार्य कर रहे हैं.20 मार्च 2015 की घटना के लिए जब नीरज की तैनाती असम के नौगांव जिला में 34 वीं बटालियन में थी तो उपद्रवियों के साथ मुठभेड़ के दौरान उन्होंने अदम्य साहस और मौके पर दुश्मनों को मार गिराने व अपने साथियों की जान बचाने के लिए वीरता के लिए पुलिस पदक से नवाजा गया था नीरज कुमार सिंह बिहार में 27 वीं बटालियन में सूबेदार के पद पर भी तैनात रहे है. कैमूर जिला के नक्सल विरोधी अभियान में भाग ले चुके हैं.