Breaking News

गिद्धौर : बालू उत्खनन को लेकर 'लोक सुनवाई' कार्यक्रम आयोजित, रखे गए कई प्रस्ताव

[न्यूज़ डेस्क | अभिषेक कुमार झा] :-

बिहार राज्य प्रदूषण नियंत्रण पार्षद, पटना के तत्वावधान में बालू उत्खनन हेतु पर्यावरणीय स्वीकृति के पूर्व 'लोक सुनवाई' नामक कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

गिद्धौर प्रखंड के पतसंडा पंचायत भवन में बुधवार की संध्या आयोजित हुए इस कार्यक्रम में उपस्थित अधिकारियों ने पर्यावरण की सुरक्षा को लेकर इस दिशा में किये जा रहे प्रयासों के बारे में बताया। कार्यक्रम में उपस्थित लोगों को बताया गया कि पर्यावरण की सुरक्षा को लेकर विभाग द्वारा पौधरोपण सहित हर मानकों को लेकर कई कार्य योजना है।
सैंकड़ों ग्रामीण व बुद्धिजीवियों की उपस्थिति में आयोजित इस कार्यक्रम के दौरान कलाली घाट, दुर्गा मंदिर एवं घन्यश्याम स्थान कोल्हुआ बालू घाट से उत्खनन को लेकर पर्यावरण संरक्षण के लिए हर पहलुओं पर किए जाने वाले प्रयासों की जानकारी दी गयी।
इस क्रम में विभूति भूषण सिंह ने बालू उठाव पर अपनी सहमति देते हुए वेस्टलिंक ट्रेंडिंग प्राइवेट लिमिटेड का आभार व्यक्त किया।
कार्यक्रम को संबोधित करते हुए गिद्धौर सेन्ट्रल स्कूल के निदेशक अमर सिंह ने कहा कि बालू का उठाव पूल के तय सीमा की दूरी पर हो, ताकि गिद्धौर से जुड़ने वाले दोनों पूल क्षतिग्रस्त न हो।
कार्यक्रम में अपनी राय रखते हुए धोबघट के सिंह जी नामक समाजसेवी ने कहा कि बालू घाट के दोनों छोर पर वृक्षारोपण करने से बहुत हद तक समस्या का पर काबू पाया जा सकता है। वहीं उंन्होने कहा कि इन जगहों पर भारी वाहनों का उपयोग पूर्णतः अनुचित है।
कार्यक्रम में मौजूद बुद्धिजीवियों की बात सुन एसडीएम सहित अन्य पदाधिकारियों ने बताए गए प्रयासों को सराहते हुए इसे धरातल पर उतारने की बात कही।
मौके पर एसडीएम, पंचायत प्रतिनिधि, वार्ड प्रतिनिधि, समाजसेवी के अलावे पप्पू कुमार रावत, बिनोद यादव, गुरुदत्त प्रसाद, सुखो रावत, पिंटू जी,सहित बड़ी संख्या में बुद्धिजीवी व ग्रामीण मौजूद थे।