Breaking News

पटना : देश के पहले निर्दलीय उम्मीदवार जो अपने घोषणा पत्र पर लड़ रहे हैं चुनाव


पटना [अनूप नारायण] :
चिलचिलाती धूप और तपती दुपहरी हवा के झोंकों के साथ धूल की आंधी और दरवाजे पर खड़े हैं पाटलिपुत्र के  खेवनहार रमेश कुमार शर्मा पानी का जहाज चुनाव चिन्ह लिए। हर मिलने जलने वाले को हाथ जोड़ते हैं कुशल क्षेम पूछते  है। रहते तो मुंबई में है पर अधिकांश लोगों को नाम से जानते हैं। जैसे ही किसी मतदाता से मिलते हैं उसके घर परिवार के बारे में उसके पिता के बारे में उसके दुख दर्द के बारे में पूछते है। लोगों को लगता है कि सही मायने में उनका रहनुमा आ गया है। प्रचार के दौरान चापाकल का पानी मांगते हैं तो किसी के घर से गुड़। उनके चाहने वाले भी इनके साथ-साथ चलते है।

जी हां हम बात कर रहे हैं पाटलिपुत्र लोकसभा क्षेत्र से 25 से ज्यादा सवर्ण संगठनों के संयुक्त निर्दलीय उम्मीदवार रमेश कुमार शर्मा की जो इन दिनों पाटलिपुत्र लोकसभा के फुलवारी शरीफ, दानापुर, विक्रम, पालीगंज और मसौढ़ी  विधानसभा क्षेत्र में तूफानी दौरा कर रहे हैं। चुनाव प्रचार का इन का अनूठा अंदाज लोगों को भा रहा है। अब प्रचार के दौरान लोग अपने बेरोजगार बच्चों के बायोडाटा के साथ उनके स्वागत में खड़े रहते हैं। उन्हें पता है कि अरबपति रमेश कुमार शर्मा के कथनी और करनी में कोई अंतर नहीं। इन्होंने क्षेत्र के सौ से ज्यादा बेरोजगारो  को अपने कंपनी में रोजगार देने का वादा कर रखा है। साथ ही साथ सैकड़ों बच्चों को अंतरराष्ट्रीय कंपनियों में भी नौकरी दिलाने का शपथ लिया है।

पाटलिपुत्र से निर्दलीय उम्मीदवार आर के शर्मा देश मे इकलौते ऐसे  निर्दलीय उम्मीदवार हैं जिन्होंने अपने खुद के घोषणा पत्र पर चुनाव लड़ने की घोषणा की है। पाटलिपुत्र लोकसभा क्षेत्र से निर्दलीय चुनाव लड़ रहे आर के शर्मा ने अपने चुनावी घोषणा पत्र में पाटलिपुत्र लोकसभा के विद्यालय और कॉलेजों में पढ़ने वाले छात्रों में सर्वश्रेष्ठ छात्रों को, कॉलेज के प्राध्यापकों को , कॉलेजों के प्रधानाध्यापकों को नागरिक पुरस्कार देने की घोषणा की है। नागरिक सेना और लता फाउंडेशन की तरफ से यह पुरस्कार प्रतिवर्ष दिया जाएगा।

साथ ही साथ उन्होंने  लोकसभा क्षेत्र में सिंचाई के लिए ट्यूबवेल की व्यवस्था करने, सर्वश्रेष्ठ अस्पताल खोलने, फिल्म एक्टिंग  एकेडमी, मरीन कॉलेज की स्थापना की घोषणा की है। क्षेत्र के प्रत्येक गांव में 24 घंटे एंबुलेंस की सेवा, महिला पुलिस थाने की स्थापना, महिला मंडल, औरतों को मदद और महिला शिक्षा को प्रोत्साहित करने की भी बात कही है। क्षेत्र में सरकारी भूमि अधिग्रहण, दारू और बम के लिए रोका जाएगा, किसानों को प्रोत्साहित किया जाएगा। इंटर स्कूल अभिनय और छात्रवृत्ति आयोजित की जाएगी, ग्रामीण खेती और होली और चैता गीत प्रतियोगिता का आयोजन होगा। पाटलिपुत्र लोकसभा क्षेत्र में कंप्यूटर शिक्षा, डिजिटल टेक्नोलॉजी, वेब टीवी ट्रेनिंग शिपिंग, वर्ल्ड वाइड वेब, सोशल मीडिया, शिक्षा क्षेत्र इंडस्ट्री व फैक्ट्रियों की स्थापना पर जोर दिया गया है। स्त्री और बालिकाओं को प्रोत्साहित करने के लिए सोशल इंजीनियरिंग को मजबूत करने की भी बात घोषणा पत्र में है।