जेल में मौत से आक्रोशित परिजनों ने गिद्धौर–झाझा एनएच को तीन घंटे तक किया जाम

गिद्धौर/जमुई (Gidhaur/Jamui), 29 दिसंबर 2023, शुक्रवार : गिद्धौर थाना क्षेत्र के संसारपुर गांव निवासी जमुई कारा में बंद कैदी प्रदीप यादव के बीते दिन सदर अस्पताल जमुई में मौत हो गई थी ।पुलिस द्वारा पोस्टमार्टम करा स्वजनो को प्रदीप का शव सौंप दिया था।बुधवार की सुबह आक्रोशित स्वजन व ग्रामीणों ने गिद्धौर-झाझा मुख्य राजमार्ग को संसारपुर मोड़ के समीप लगभग तीन घंटे तक जाम कर दिया। मुख्य राज मार्ग जाम कर रही मृतक की पत्नी सहित स्वजनो ने जिला प्रशासन पर प्रदीप की मौत के मामले को दबाने की जांच की मांग करते हुए मुआवजे की मांग कर रहे थे।

बताते चले कि थाना क्षेत्र के संसारपुर गांव निवासी पुत्र प्रदीप यादव न्यायालय से निर्गत अजमानतीय वारंट के आधार पर बीते माह से जमुई जेल में बंद था। जहां जेल में अचानक बीमार होने के बाद इलाज के दौरान में सदर अस्पताल में उसकी मौत हो गई।
मृतक के स्वजन जेल में साजिश के तहत प्रदीप की बेरहमी से पीटकर हत्या कर देने की बात कही थी। बुधवार की सुबह ग्रामीणों व स्वजनो द्वारा मृतक के शव को गिद्धौर झाझा मुख्य राजमार्ग पर रखकर सड़क जाम कर दिया। सड़क जाम होने से दोनों तरफ वाहनों की लंबी कतार लग गई।
सड़क जाम की सूचना मिलते ही गिद्धौर थानाध्यक्ष बृजभूषण सिंह,अवर निरीक्षक नीरज कुमार,शंकर कुमार, आयुषी कुमारी सहित बिहार पुलिस के जवान घटनास्थल पर पहुंचे। व घटनास्थल पर मृतक की पत्नी इंदु देवी अपने पति की मौत जिला प्रशासन से मामले के जांच की मांग सहित पर बीस लाख रुपये मुआवजे की मांग पर अड़े थे। थानाध्यक्ष के बहोत समझाने पर भी मृतक के स्वजन सहित ग्रामीण मुख्य राज मार्ग को तीन घंटे तक जाम रखा।

जाम हटाने गई की पुलिस और ग्रामीणों में हुई झड़प
सड़क जाम हटाने को तैयार नही हो रहे स्वजन व ग्रामीण जाम हटाने गए गिद्धौर पुलिस के जवानों पर अचानक पथराव करना शुरू कर दिया। जिसकी वजह से गिद्धौर झाझा मुख्य राजमार्ग थोड़ी देर के लिए रणक्षेत्र बन गया। पथराव कर रहे ग्रामीणों द्वारा इस दौरान पुलिस के दो वाहन को भी बुरी तरह से क्षतिग्रस्त कर दिया।
पथराव में गिद्धौर थानाध्यक्ष बृजभूषण सिंह,अवर निरीक्षक नीरज कुमार, बिहार पुलिस के जवान हर्ष कुमार घायल हो गए। ग्रामीणों द्वारा किए जा रहे पथराव से उत्पन्न माहौल को सामान्य करने में स्थानीय प्रशासन को पाँच हवाई फायर कर कड़ी मशक्कत करनी पड़ी। व पुलिस ने सख्ती करते हुए हल्का बल प्रयोग किया गया। तब जाकर पथराव कर रहे ग्रामीण भाग खड़े हुए।

तीन घंटे बाद चालू हुआ आवागम
गिद्धौर पुलिस द्वारा माहौल को सामान्य कराकर कर मृतक के स्वजनो व मृतक के शव मुख्य राज मार्ग से हटाया व जाम में फंसे सभी वाहनों को चालू करवा मुख्य राजमार्ग पर आवागमन को सामान्य करवाया।

Post a Comment

Previous Post Next Post