Breaking News

खैरा : थानेदार ने फटकारा तो पीड़िता ने SP से लगाई गुहार, एसपी ने मामले में दिए कार्रवाई के आदेश


KHAIRA /खैरा (प्रहलाद कुमार) :-

जिले के खैरा थाना क्षेत्र में पुलिसिंग का शर्मनाक चेहरा लगातार सामने आ रहा है. पुलिस द्वारा मामला दर्ज नहीं किए जाने की एक खबर सामने आने के 24 घंटे के भीतर एक अन्य महिला ने खैरा थानाध्यक्ष पर गंभीर आरोप लगाए. इसे लेकर महिला ने पुलिस अधीक्षक को लिखित आवेदन भी दिया है. अपने आवेदन में पीड़िता मांगोबन्दर निवासी टेनी दास की पत्नी चंपा देवी ने कहा कि गांव के कुछ लोगों ने डायन का आरोप लगाकर मेरे साथ मारपीट की और उस पर जानलेवा हमला किया. इसे लेकर जब मैं एफआईआर दर्ज करने खैरा थाना पहुंची, तब थानाध्यक्ष ने मुझे 3 मर्तबा थाने से लौटा दिया और एफआईआर दर्ज नहीं किया. महिला ने आरोप लगाया है कि पुलिस मामले में कार्रवाई नहीं करती है और एफआईआर तक दर्ज नहीं करती है. महिला ने एसपी को दिए अपने आवेदन में बताया कि गांव निवासी बुधन रविदास, तीलिया देवी, रूपेश दास, पप्पू रविदास, चांदनी देवी सहित अन्य लोग मेरे घर पर आए और मुझ पर डायन का आरोप लगाकर मेरे साथ मारपीट करने लगे. उन्होंने मेरे साथ दुर्व्यवहार किया और बलात्कार का प्रयास भी किया. मेरे द्वारा हो-हल्ला करने पर जब आसपास के लोग एकत्रित हुए तब मेरी इज्जत आबरू बचाई जा सकी. इसे लेकर जब मैं खैरा थाना पहुंची तब थानाध्यक्ष सिद्धेश्वर पासवान ने मेरा आवेदन स्वीकार नहीं किया. मैं कुल मिलाकर 3 मर्तबा खैरा थाना गई लेकिन मेरी एक नहीं सुनी गई और मेरे मामले में पुलिस ने एफआईआर दर्ज करना तो दूर मेरा आवेदन भी स्वीकार नहीं किया. जिसके बाद महिला ने पुलिस अधीक्षक को आवेदन देकर मामले में कर रहा है की गुहार लगाई है.
         बताते चलें कि इससे पहले भी बीते गुरुवार को भी वार्ड सदस्य एक महिला ने खैरा थानाध्यक्ष पर कुछ ऐसा ही आरोप लगाया था. अब ऐसे में सवाल उठने लगे हैं कि आखिर खैरा में किस तरह की पुलिसिंग हो रही है। और जब महिलाओं की बात नहीं सुनी जा रही सब बाकी आम लोगों की बात पुलिस कैसे सुनेगी और पुलिस पर लोग कैसे यकीन करेंगे. फिलहाल पुलिस अधीक्षक ने मामले में कार्रवाई के आदेश दिए हैं.