Header Ad

header ads

खैरा थाना बन गया मयखाना! फेंकी मिली विदेशी शराब की बोतलें

 


Khaira / खैरा (प्रहलाद कुमार) :- बिहार में शराबबंदी कानून को सख्ती से पालन कराने की जिम्मेदारी जिस पुलिस प्रशासन को दी गई है, वही पुलिस प्रशासन सरकार के भरोसे पर पलीता लगा रहे हैं।

ताजा मामला खैरा थाना से जुड़ा है, जहां शराबबंदी कानून को धत्ता बताने वाली तस्वीरें सामने आई हैं। दरअसल, गुरुवार को खैरा थाना परिसर के मुख्य भवन के पीछे खैरा थानाध्यक्ष के आवास के बाहर विदेशी शराब की खाली बोतले पड़ी हुई थी। उन्हें देखकर सहज ही अंदाजा लगाया जा सकता था कि उन्हें थाना परिसर में ही पिया गया है और फिर उन्हें बाहर ही फेंक दिया गया। 


यूं तो बिहार सरकार ने शराब बंदी कानून के पालन को लेकर पुलिस पदाधिकारियों को शराब न पीने न पीने देने की शपथ दिलाई है। शराबबंदी कानून के तहत शराब की बोतल पकड़े जाने पर सजा का भी प्रावधान है। बावजूद इसके , अब तक ऐसे मामले में वरीय पुलिस पदाधिकारियो के द्वारा किसी भी प्रकार की कार्रवाई नहीं की गई है ; पर इस बाबत पूछे जाने पर पुलिस अधीक्षक पी के मण्डल (Jamui SP P. K. Mandal) ने कहा कि मामले की संपूर्ण जानकारी के बाद ही कुछ कहा जा सकता है। ऐसे में अब सवाल यह उठ रहा है कि आखिर जब खाकीधारी ही नशे में धुत्त हो जाएंगे तो आमलोगों की हिफाजत कौन करेगा ? 


Edited by : Abhishek Kr. Jha


#Khaira, #LiquorBan, #GidhaurDotCom