Breaking News

गिद्धौर में स्वास्थ्य विभाग के लापरवाही का आलम, बिना पीपीई-कीट के स्वास्थ्यकर्मियों ने की कोविड जांच

 


【 Gidhaur (न्यूज़ desk) | धनञ्जय कुमार 'आमोद' 】:- कोरोना (Covid19) के महासंकट काल में जहां लोगों की उम्मीद का एक मात्र केंद्र स्वास्थ्य विभाग रहा, वहीं, इन दिनों बड़े पैमाने पर स्वास्थ्य विभाग (Health Department) की विसंगतियां देखने को मिल रही है। बिहार सरकार (Govt. of Bihar) व स्वास्थ्य विभाग के द्वारा जारी निर्देशों का पालन करते हुए दिग्विजय सिंह सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र गिद्धौर (Gidhaur PHC) के कर्मियों ने बुधवार को थाना गेट के समीप राजगीरों का कोरोना टेस्ट (Covid Test) किया। इस दौरान दर्जनों यात्रियों को कोरोना जांच की गई। बता दे, कोरोना के तीसरी लहर की आशंका के मद्देनजर कर्मियों द्वारा कोरोना जांच अभियान चलाया जा रहा है। वहीं , बुधवार को थाना गेट के समीप वाहन को रोककर यात्रियों का कोरोना जांच किया गया। कोरोना जांच के दौरान स्वास्थ्य कर्मी मोहित कुमार ने बताया कि विभागीय आदेश पर दर्जनों यात्रियों का कोविड टेस्ट किया गया है, जिसमें सभी नेगेटिव पाए गए हैं। वहीं, कोरोना जांच के दौरान बिना मास्क व पीपीई-कीट के मोबाइल में मशगूल एक स्वास्थ्यकर्मी की तस्वीर gidhaur.com के कैमरे में कैद हो गई। वहीं, टेस्ट करने वाले स्वास्थ्यकर्मी भी बिना पीपीई किट के ही अपने दायित्वों का निर्वहन कर रहे थे, यही बानगी पिछले माह भी देखी गई थी। 

खैर, माज़रा जो भी हो,कोरोना से बचाव को नसीहत देने वाले स्वास्थ्य विभाग के इस लापरवाही वाली तस्वीर ने स्थानीय स्वास्थ्यकर्मियों के कार्यशैली को सवालों के कठघरे में खड़ा कर दिया है।


Edited by : Abhishek Kr. Jha


#Gidhaur, #CoronaVirus, #GidhaurDotCom