गिद्धौर : कोल्हुआ के मुखिया पर लगा सरकारी राशि हड़पने का आरोप, परिवाद दायर

न्यूज़ डेस्क | अभिषेक कुमार झा】 :-

पंचायत चुनाव (Panchayat Election) के दस्तक देते ही योजनाओं की फ़ेहरिस्त संधारित होते नजर आ रही है। इसके साथ ही पंचायत स्तरीय योजनाओं (Panchayat Level Project) के संधारण को लेकर सम्बंधित जनप्रतिनिधियों द्वारा विकास का डंका पीटा जा रहा है। इसी क्रम में गिद्धौर (Gidhaur) प्रखंड के कोल्हुआ (Kolhua) पंचायत अंतर्गत धोबघट (Dhobghat) गांव  निवासी प्रमोद कुमार सिंह ने पंचायत के मुखिया किरण देवी पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाया है। 

प्रमोद सिंह, परिवादी

पंचायत में क्रियान्वयित होने वाले योजनाओं में मुखिया द्वारा लूट का बखान करते हुए श्री सिंह ने बिहार लोक शिकायत (Bihar Lok Shikayat) निवारण अधिकारी अधिनियम 2015 के धारा 2 के तहत परिवाद भी दायर किया है। श्री सिंह ने बताया कि जल-नल योजना व 7 निश्चय (7 Nishchay) योजनाओं में मुखिया व उनके पति केदार तांती द्वारा 60-80% सरकारी राशि हड़प ली और कार्यों में भारी अनियमितता बरती गई है। उन्होंने पंचम वित्त व 15वीं वित्त राशि समेत पंचायत से जुड़े अन्य सभी सरकारी योजनाओं में 60-80 फिसदी राशि हड़पने का आरोप लगाया है। साथ ही कहा कि मुखिया के कार्यकाल में कोल्हुआ पंचायत (Kolhua Panchayat) पर भ्रष्टाचार की चादर बिछा दी गई है। इसके अलावे सरकारी राशि का गलत तरीके से इस्तेमाल कर कोल्हुआ पंचायत के जनता के आंखों में धूल झोंका गया है। हालांकि, मुखिया ने इस आरोप को निराधार बताया है। इधर, आवेदक श्री सिंह ने विडम्बना जाहिर करते हुए बताया कि उन्होंने इस अनियमितता को लेकर मुख्यमंत्री (CM), जिलाधिकारी (DM), डीडीसी (DDC) एवं संबंधित विभाग के पदाधिकारी को भी लिखित शिकायत की है, पर अभी तक किसी भी प्रकार की कार्रवाई सामने नहीं आयी। परिवाद का हवाला देते हुए आवेदक श्री सिंह ने अधिकारियों से पंचायत में क्रियान्वित योजनाओं के निष्पक्षतापूर्वक जांच की मांग रखी है।

Post a Comment

Previous Post Next Post