Header Ad

header ads

गिद्धौर पीएचसी का वाक़या - "एकदम डुप्लीकेट मास्क है. कैसहों कान में फंसैले हैं."

गिद्धौर/जमुई (Gidhaur/Jamui) :
"मैडम देखिये एकदम डुप्लीकेट मास्क है. रस्सिये बार-बार टूट जाता है. कैसहों कान में फंसैले हैं."
ये वाक़या तब हुआ जब बीते सोमवार को जमुई (Jamui) की सीनियर डिप्टी कलेक्टर व गिद्धौर (Giddhaur) एमओ भारती राज गिद्धौर (Gidhour) स्थित दिग्विजय सिंह सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र (Digvijay Singh PHC) का औचक निरीक्षण करने पहुँचीं.
उन्होंने अस्पताल में कार्यरत चिकित्सकों एवं कर्मियों के साथ बैठक की एवं सभी को कोरोना (Corona) संक्रमण से बचाव के लिए एहतियात बरतते हुए मास्क का प्रयोग करने की सख्त सलाह दी.
तभी अस्पताल के एक कर्मी ने अपने मास्क के टूटे सपोर्ट एलास्टिक को दिखाते हुए बताया कि मास्क लो क्वालिटी का है जिससे की बार-बार यह टूट जाता है. इसपर एमओ भारती राज ने कहा कि यह सिंगल यूज़ मास्क है, टूट जाने या ख़राब हो जाने पर दुसरे मास्क का प्रयोग करें.
साथ ही उन्होंने अस्पताल के गार्ड को भी यह हिदायत दी कि मास्क के बगैर लोगों को प्रवेश न दें एवं जिनके पास भी मास्क न हो उन्हें अस्पताल से तत्काल उपलब्ध करें.