Header Ad

header ads

गिद्धौर : शिव के पार्थिव पूजन में जुटे ग्रामीण, बाबा घनश्याम का होगा वार्षिक पूजनोत्सव

न्यूज़ डेस्क | अभिषेक कुमार झा】:-

गिद्धौर की ऐतिहासिक धरती पर भक्तिधारा का भी अनंत प्रवाह हुआ है। इससे जुड़े अन्य पंचायतों में कई धार्मिक मान्यताएं ऐसी हैं जिनके अनुसरण से स्वास्थ्य, धन-यश व मनोइच्छाएँ पूर्ण होती है, साथ ही परिवार में सुख-शांति बनी रहती है।


गिद्धौर के मौरा पंचायत स्थित घनश्याम स्थान में पार्थी पूजन की ये परम्परा इन्हीं उदाहरणों में से एक है। मौरा के बाबा घनश्याम से जुड़ी इनकी आस्था इसके महत्व का परिचायक है।
मौरा पंचायत के झा टोला में कई वर्षों से पार्थी पूजन कर भगवान शिव की आराधना की जाती है। पार्थी पूजन के बाद समाज के लोग शुक्रवार या सोमवार के दिन बाबा घनश्याम स्थान मौरा में समाज के सभी लोग सादा भोजन प्रसाद के रूप में ग्रहण करते हैं। तत्पश्चात शुक्रवार या सोमवार के दिन ही बाबा घनश्याम के वार्षिक पूजन उत्सव का भी आयोजन किया जाता है।


ग्रामीण दामोदर झा, अजीत झा, रोहित झा, मनीष झा आदि बताते हैं कि यह प्रक्रिया जब तक समाप्त नहीं हो जाती तब तक गांव में खरीफ फसल लगाया नहीं जाता। मान्यता है कि ऐसा करने से हमारे गांव में सुख समृद्धि बनी रहती है और विपत्ति काल में बाबा घनश्याम इस गांव के प्रहरी की भूमिका निभाते हैं।


बता दें, प्रखण्ड के इकलौते गांव की ये अनुपम परम्परा और धर्मिक मान्यताओं से गिद्धौर का इतिहास भी गौरवान्वित महसूस करता है।