Header Ad

header ads

अलीगंज में पूर्व सांसद पप्पू यादव का CM व PM पर निशाना, बोले- तानाशाही सरकार से जनता त्रस्त


अलीगंज (चन्द्रशेखर आज़ाद) :-  अलीगंज प्रखंड के आढा चौक पर मुसलिमों व वाम दलों द्वारा एनआरसी, सीएए व एनपीआर के विरोध में केन्द्र की तानाशाही मोदी सरकार व नीतीश कुमार पर जमकर हमला बोलते हुए जन अधिकार पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पूर्व सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि देश में काला कानून लाकर मोदी जी आपसी भाईचारे को बांटना चाहते है।

इसे किसी भी कीमत पर देश में लाने नहीं दिया जाएगा। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को नफरत पैदा कर खुद को हिन्दु सम्राट साबित करने की कोशिश में लगे हुए है। उन्होंने बताया कि एनआरसी से ज्यादा खतरनाक एनपीआर है, जिससे लोगों को बचने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि एनसीआर के लिए जब कोई प्रमाण मांगने आये तो बहाना बना कह देना आग मे जल गया या पानी में बह गया है। पूर्व सांसद ने कहा कि हमें जिन्ना पाकिस्तान से मतलब नहीं है। हमें अपने वतन से मतलब और मोहब्बत है। हमने भारत की सरजमीं को चुना है और हमारे पुरखों की अस्थियाँ इसी धरती में दफन है। उन्होंने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को कहा कि ये मुंह मियांमिट्ठू बनकर काम करना चाहते हैं,जिसे बिहार  के लोग समझ चुके है। नीतीश कुमार बोलते कुछ हैं और करते कुछ हैं । कथनी और करनी में काफी अंतर है। उन्होंने कहा कि मोदी जी 56 इन्च सीना वाले डीएनए टेस्ट कराओ किसका डीएनए है। बिहार में रोज  माँ ,बहनों  व नाबालिग के साथ रोज बलात्कार के बाद हत्या हो रहा है। नीतीश सरकार आंख मूंद बैठी है। उन्होंने कहा कि इस काला कानून से गरीबों,पिछडी ,दलितों को परेशान करने की नियत से केन्द्र की तानाशाही सरकार यह काला कानून लाकर आपसी भाईचारे व सदभाव को बिगाड़ने पर तुली है। हिन्दु- मुसलमान करके टकराहट पैदाकरना चाहती है। सभा को मो. तौहीद खान, जाप के युवा जिला अध्यक्ष अविनाश कुमार, कांग्रेस नेता धर्मेन्द्र पासवान ने संबोधित किया।


मौके पर मो. अनवर इकबाल, मुखिया मो. ओवैदुल्लाह, मो. हजारी, जन अधिकार पार्टी के युवा नेता पवन कुमार, मो. फैयाज , मो. नौशाद कयाम , मो. कमाल साहब के अलावे बड़ी संख्या में लोग मौजूद थे।