बड़ी खबरें

देवघर : बाबा बैद्यनाथ व माता पार्वती मंदिर का उतरा पंचशूल, कल होगी पूजा

देवघर : बुधवार को फागुन मास की एकादशी पर प्राचीन परंपरा का निर्वहन करते हुए बाबा बैद्यनाथ धाम मंदिर में माता पार्वती और बाबा बैद्यनाथ मंदिर के शिखर पर लगे पंचशूल को उतारा गया।

21 फरवरी को होने वाले शिवरात्रि को लेकर बुधवार को बाबा बैद्यनाथ और माता पार्वती मंदिर के शिखर से पंचशूल उतारा गया। इसके पूर्व अन्य सभी मंदिरों के पंचशूल को भी उतार कर मंदिर कार्यालय में रखा गया है। बुधवार दोपहर को मंदिर के भंडारी ने दोनों मंदिरों के पंचशूल को उतारा। इस दौरान पंचशूल को स्पर्श करने के लिए मंदिर परिसर में श्रद्धालुओं की भीड़ लगी रही। प्राचीन परंपरा के अनुसार, शिवरात्रि के दो दिन पूर्व बाबा बैद्यनाथ और पार्वती मंदिर के पंचशूल को उतारा जाता है। मंदिर से उतारे गए पंचशूलों की सफाई की जाती है।

गुरुवार को सभी पंचशूल की विधिवत पूजा कर मंदिर के शिखर पर लगाया जाएगा। पंचशूल उतरने के बाद बाबा और पार्वती मंदिर का गठबंधन भी बंद हो गया। अब पंचशूल लगने के बाद ही गठबंधन शुरू होगा। हर साल शिवरात्रि के दो दिन पूर्व दोनों मंदिरों से पंचशूल उतार कर उसकी सफाई और विशेष पूजा कर मंदिर के शिखर पर लगाया जाता है। यह परंपरा वर्षाें से चली आ रही है। मौके पर प्रशासनिक अधिकारी सहित सैकड़ों लोग पंचशूल के स्पर्श को लेकर उमड़ पड़े।