बड़ी खबरें

प्रसाद योजना के कार्यों में लायें तेजी : उपायुक्त नैन्सी सहाय

देवघर। उपायुक्त नैन्सी सहाय की अध्यक्षता में प्रसाद योजना के तहत किये जा रहे विकास कार्यों की समीक्षा बैठक समाहरणालय सभागार में आयोजित की गयी। बैठक के दौरान उन्होंने जानकारी दी कि प्रसाद योजना केन्द्र सरकार की महत्वाकांक्षी योजना है। इसके तहत देवों की नगरी देवघर, बाबा वैद्यनाथ मंदिर, कांवरियां पथ व आसपास के क्षेत्रों का सौन्दर्यीकरण व विकास किया जाना है। प्रसाद योजना के तहत बाबा मंदिर व आसपास के क्षेत्रों का सौन्दर्यीकरण के साथ प्रचार-प्रसार व पर्यटन को बढ़ावा देने हेतु कई तरह के निर्माण कार्य किये जा रहे हैं। उसी के तहत बाबानगरी में प्रवेश करने हेतु तीन प्रवेश द्वार का निर्माण भी किया जाना है। 
बैठक के दौरान उपायुक्त  नैन्सी सहाय ने आई0डैक एजेंसी द्वारा किये जा रहे कार्यों की विस्तृत समीक्षा कर संबंधित अधिकारियों व एजेंसी को आपसी समन्वय स्थापित करते हुए कार्य में तेजी लाने का निर्देश दिया। इसके अलावे उन्होंने तीन प्रवेश द्वार बनाये जाने हेतु जिला योजना पदाधिकारी, राष्ट्रीय राजमार्ग व पथ निर्माण विभाग के अधिकारी, अंचलाधिकारी एवं एजेंसी को आपसी समन्वय स्थापित कर जल्द से जल्द स्थल चयन कर लेने का निर्देश दिया। समीक्षा के क्रम में उन्होंने शिवगंगा व जलसार पार्क सौंदर्यीकरण के कार्यों के वास्तुस्थिति व किये जाने वाले कार्यों से अवगत हुई। साथ ही कांवरिया पथ में बनाये जाने वाले सामुदायिक भवन के निर्माण कार्य में तेजी लाने का निर्देश आई0डैक एजेंसी को दिया। प्रसाद योजना के तहत इंटीग्रेटेड कंट्रोल कमांड सेंटर, बारह ज्योतिर्लिंग से संबंधित म्यूजियम के कार्यों की समीक्षा कर संबंधित डिजाइनों को लेकर एजेंसी को आवश्यक व उचित दिशा-निर्देश दिया। 

जल्द शुरू होगा प्रसाद योजना के तहत कार्यों का क्रियान्वयन 
बैठक के दौरान उपायुक्त ने संबंधित अधिकारियों व एजेंसी को निदेशित किया कि सारे निर्माण कार्यों से संबंधित डीपीआर राज्य स्तर से एप्रूव्ड हो चुका है, टेंडर भी किया जा चुका है एवं जरूरत के मुताबिक एनओसी व जमीन भी मुहैया करायी जा चुकी है। ऐसे में सभी अधिकारी व एजेंसी आपसी समन्वय स्थापित करते हुए जल्द से जल्द प्रसाद योजना से संबंधित निर्माण कार्य को पूर्ण करने का प्रयास करें। इन कार्यों के पूर्ण होने के बाद बाबा मंदिर की प्रसिद्धि के साथ देवनगरी में पर्यटन के क्षेत्र को नया आयाम हासिल होगा। इसके अलावा उन्होंने संबंधित अधिकारियों व एजेंसी प्रतिनिधियों को निर्देशित किया कि आपसी समन्वयन स्थापित करते हुए बेहतर व गुणवत्तापूर्ण कार्य करें। समीक्षा के क्रम में उपायुक्त ने अधिकारियों व एजेंसी के साथ विभिन्न बिंदुओं पर विस्तृत चर्चा कर संबंधित को आवश्यक व उचित दिशा-निर्देश दिया। 
समीक्षा बैठक के क्रम में उपायुक्त ने प्रसाद योजना के तहत किये जाने वाले कार्यों के प्रारूप को लेकर अपनी संतुष्टि व्यक्त की। इसके अलावे उन्होंने संबंधित अधिकारियों व एजेंसी को निदेशित किया कि सौन्दर्यीकरण व विकास के कार्यों के बीच जल स्त्रोतो का पुरा ध्यान रखा जाय, ताकि वाटर रीचार्ज सिस्टम को किसी तरह का नुकशान न हो। इसके अलावा उन्होंने संबंधित अधिकारियों व एजेंसी को हर 15 दिनों में किये जा रहे कार्यों की रिपोर्ट उपायुक्त कार्यालय में समर्पित करने का निदेश दिया। बैठक में नगर आयुक्त अशोक कुमार सिंह, उप विकास आयुक्त शैलेन्द्र कुमार लाल, अनुमंडल पदाधिकारी, देवघर  विशाल सागर, पंडा धर्मरक्षणि सभा के अध्यक्ष सुरेश भारद्वाज, पंडा धर्मरक्षणि के महामंत्री कार्तिक नाथ ठाकुर, मंदिर प्रबंधक रमेश परिहस्त, जिला योजना पदाधिकारी राजीव रंजन सिन्हा, एनएच रोड डिविजन, भवन प्रमंडल के कार्यपालक अभियंता, जसीडीह व देवघर रेलवे स्टेशन के स्टेशन मास्टर, देवघर अंचलाधिकारी, पर्यटन विभाग से रौनक दूबे एवं आईडेक एजेंसी के आर्किटेक्चर, अभियंता व अन्य संबंधित अधिकारी आदि उपस्थित थे।
Input :- चंदन पांडेय