Breaking News

6/recent/ticker-posts

वशिष्ठ नारायण के निधन के बाद भी उन्हें सम्मान नहीं दे सका सरकारी सिस्टम, 2 घंटे करना पड़ा एम्बुलेंस का इंतजार

पटना : महान गणितज्ञ वशिष्ठ नारायण सिंह अब हमारे बीच नहीं रहे। आज सुबह उन्होंने अंतिम सांस ली। लेकिन निधन के बाद भी बेशर्म सरकारी सिस्टम कोरम पूरा करने से भी चुक जा रही है। बेहद शर्मनाक तो यह है कि एक तरफ बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार उनके निधन पर शोक जताते थक नहीं रहे थे तो दूसरी तरफ बेशर्म सिस्टम शव को ले जाने के लिए एक एंबुलेंस तक भी उपलब्ध नहीं करा पा रही थी।
उनके परिजनों का आरोप है कि पीएमसीएच में वशिष्ठ बाबू की लाश घंटों स्ट्रेचर पर एंबुलेंस की आश में पड़ी रही। परिजन इंतजार करते रहे कि कोई भी सरकारी अमला आएगा और उनकी थोड़ी मदद करेगा। लेकिन एम्बुलेंस की बात तो छोड़िए न तो पीएमसीएच प्रशासन और न ही सरकारी सिस्टम मदद को सामने आया। परिजन कहते हैं कि भाड़ा पर एंबुलेंस कर इनके शव को पीएमसीएच से ले जायेंगे।