गिद्धौर : वसुधा केंद्र में एक ही छत के नीचे मिलेगी कई सुविधाएं, जानिये क्या है विशेषता - gidhaur.com : Gidhaur - गिद्धौर - Gidhaur News - Bihar - Jamui - जमुई - Jamui Samachar - जमुई समाचार

Breaking

A venture of Aryavarta Media

Post Top Ad

Post Top Ad

Sunday, 3 March 2019

गिद्धौर : वसुधा केंद्र में एक ही छत के नीचे मिलेगी कई सुविधाएं, जानिये क्या है विशेषता



News Desk | Abhishek Kumar Jha.

भारत सरकार ने देश की जनता को अनेक परियोजनाएं समर्पित की है| इन्ही परियोजनाओं में से एक परियोजना वसुधा केंद्र भी है| यह एक ऐसा केंद्र है जहाँ लोग अनेकों प्रकार के सरकारी एवं गैर सरकारी योजनाओं का लाभ ऑनलाइन के माध्यम से प्राप्त करते है|


गिद्धौर स्थित वसुधा केंद्र ऐसी कई सरकारी योजनाओं से जनता को जोड़ने में सहायक सिद्ध हो रही है, जिससे समाज के निम्न वर्ग भी आसानी से लाभान्वित हो सके| यदि सरकार के कुछ महत्वकांकशी योजनाओं की बात करें तो, आयुष्मान भारत, हेल्थ होमियो, जैसे कई महत्वकांक्षी योजनाओं से ग्रामीणों को जोड़ने में सहायक सिद्ध हुई है| हाल ही में प्रधानमन्त्री श्रम योगी मानधन योजना का पंजीकरण भी आरम्भ हुआ है जिसमें असंगठित क्षेत्र में काम कर रहे श्रमिक पंजीकरण करा कर पेंशन के हकदार हो सकते हैं| वसुधा केंद्र गिद्धौर में इसके अलावे लाइफ सर्टिफिकेट, इन्सुरैंस, पैन कार्ड, रेल टिकेट, रिजर्वेशन, रिचार्ज, सहित कई अन्य डिजिटल सेवाएँ लोगों को समर्पित है| इसके अतिरिक्त किसान रजिस्ट्रेशन, ऑनलाइन जमीन रसीद, कृषि सम्बंधित ऑनलाइन आवेदन सहित कंप्यूटर शिक्षा एवं इन्टरनेट सम्बंधित अन्य सुविधा भी प्रदान की गई है|
वसुधा केंद्र गिद्धौर के वीएलई दिलीप कुमार दास बताते हैं कि सीएससी द्वारा ऐसी कई सरकारी योजनाएँ एवं स्कीम हैं जिससे निम्न वर्ग के लोग भी लाभान्वित हो सकते हैं| एक ही छ्त के नीचे सारी सुविधाओं को लोगों तक पहुंचना ही सीएससी की प्राथमिकता है| विगत वर्षों में वसुधा केंद्र से समाज के लगभग प्रत्येक वर्ग के लोग लाभान्वित हुए हैं| वर्तमान में सीएससी प्रधानमन्त्री के स्किल इंडिया के ख्वाब को भी पूरा करने की ओर अपना कदम बढ़ा चुकी है| जिसमे फिलहाल विकलांगों को प्रशिक्षण देकर उन्हें सशक्त और आत्मनिर्भर बनाया जाएगा|
सामान्यत: यदि कहा जाय तो, वसुधा केंद्र में इन सुविधाओं की उपलब्धता से जनहित के अनेक कार्य सुगम हो गए हैं| खैर जो भी हो, इतना तो निसंदेह ही कहा जा सकता है कि वसुधा केंद्र के स्थापना ने बिचौलियों के साथ साथ इनके मंसूबे को भी करारी शिकस्त मिली है|

Post Top Ad