Skip to main content

हमारे पाठक

* सफलता का एक आसान फार्मूला है, आप अपना सर्वोत्तम दीजिये और हो सकता है लोग उसे पसंद कर लें। -सैम ईविंग * नौसिखिये बैठे रहते हैं और इंश्पिरेशन का इंतज़ार करते हैं, बाकी हम सब बस उठते हैं और काम पर चल देते हैं। -स्टीफन किंग * सफलता बहुत हद तक तब भी टिके रहना है जबकि बाकी लोग मैदान छोड़ कर चले गए हों। * जहाँ हो वहां से शुरुआत करो। उसका प्रयोग करो जो तुम्हारे पास है। वो करो जो तुम कर सकते हो। -आर्थर ऐश * हमारी सबसे बड़ी कमजोरी हार मान लेना है। सफल होने का सबसे निश्चित तरीका है हमेशा एक और बार प्रयास करना। -थॉमस ए. एडीसन

आप इस पोर्टल पर अपना न्यूज़ लगवाने के लिए हमारे व्हाट्सएप नंबर - 9504036827 पर हमें भेज सकते हैं

* जहां तुम हो वही से शुरू करो, जो कुछ भी तुम्हारे पास है उसका उपयोग करो और वह करो जो तुम कर सकते हो. * जब तक किसी काम को किया नहीं जाता तब तक वह असंभव लगता है. -नेल्सन मंडेला * तुम उन्नति नहीं करते जब सब कुछ ठीक होता है, परेशानियां तुम्हे मज़बूत बनाती हैं. * सफल वो होते हैं जो अपने ऊपर फेंके गए पत्थर से भी ईमारत बना लेते हैं.

गिद्धौर को जानें


Gidhaur.com - गिद्धौर : जिसे पतसंडा भी कहा जाता है, बिहार के जमुई जिले में एक छोटा सा शहर है। यह 1947 में ब्रिटिश भारत के विभाजन से पहले भारत के 568 प्राचीन प्रांतीय राज्यों में से एक था। चंदेल वंश के राजाओं ने छह सौ वर्षों से अधिक समय के लिए पतसंडा पर शासन किया था। राजा बीर विक्रम सिंह ने 1266 में इस रियासत की स्थापना की। उनके पूर्वजों में बुंदेलखंड क्षेत्र के महोबा थे और वे मध्य प्रदेश के खजुराहो मंदिरों के निर्माणकर्ता थे। कहा जाता है कि उनके वंश के नौवें राजा पुरण सिंह ने झारखंड के देवघर में बाबा बैद्यनाथ (भगवान शिव) का मंदिर बनाया है। पतसंडा को शहर से 2 किलोमीटर दूर स्थित रेलवे स्टेशन के नाम से गिद्धौर नाम दिया गया था। गिद्धौर 1994 में ब्लॉक बन गया था, इससे पहले यह लक्ष्मीपुर ब्लॉक में शामिल था। 


गिद्धौर उलाई नदी के किनारे स्थित है। बिहार की राजधानी पटना यहाँ से 167 किलोमीटर दक्षिण-पूर्व में स्थित है। यह जिला मुख्यालय जमुई से लगभग 19 किलोमीटर पूर्व में स्थित है। उलाई एक मानसून नदी है जो शहर के समानांतर बहती है और दक्षिणी-पश्चिमी सीमा बनाती है। शहर के उत्तर और दक्षिण की दिशा में दो पहाड़ी सेवा-पहाड़ और बंधौरा-पहाड़ क्रमशः स्थित हैं। मिंटो टॉवर के आसपास जनसंख्या को समान रूप से वितरित किया गया है। विभिन्न स्थानीय स्थानों को वर्गीकृत करने के लिए शहर को पूर्वी भाग (झाझा की ओर) और पश्चिमी भाग (जमुई की ओर) में बांटा जा सकता है।


गिद्धौर ब्लॉक का भौगोलिक क्षेत्र 71.11 वर्ग किलोमीटर है।


गिद्धौर ब्लॉक में बीस गांव हैं :-

1. बंधौरा   2. गंगरा   3. खड़हुआ   4. महुली   5. रतनपुर   6. बंझुलिया   7. गेनाडीह   8. कोल्हुआ   9. मौरा   10. संसारपुर   11. छतरपुर   12. गुगुलडीह   13. कुमारडीह   14. नयागांव   15. सेवा   16.  धोबघट   17. केतरू नवादा   18. कुंधुर   19. पतसंडा   20. सिमरिया 

त्यौहार

गिद्धौर का दुर्गा-पूजा बहुत प्रसिद्ध है। यह बहुत हर्षोल्लास और धार्मिक तरीके से मनाया जाता है। गिद्धौर के दुर्गा-पूजा से संबंधित एक लोक-कहावत अति प्रसिद्ध है - 'काली है कलकत्ते की, दुर्गा है पतसंडे की'। इसकी लोकप्रियता का वर्णन सर्वविदित है। हजारों लोग नवरात्रि में दुर्गा मंदिर आते हैं और माँ दुर्गा की पूजा करते हैं। लक्ष्मी पूजा को दस दिन (नवरात्र के अंतिम दिन) के 5 दिन बाद मनाया जाता है। ग्रामीण मनोरंजन के सभी प्रकार की सुविधा के लिए दुर्गा मंदिर के निकट एक महीने का मेला आयोजित किया गया है। विभिन्न वृक्ष-पौधों की एक विशाल विविधता बेची जाती है, जो इस मेला को पर्यावरण के बहुत ही अनुकूल बनाता है।

इसके अलावा, होली, दिवाली, छठ पूजा, ईद, मुहर्रम, रामनवमी को व्यापक रूप से मनाया जाता है।


प्रसिद्ध मिठाई

गिद्धौर का तिलकुट बहुत प्रसिद्ध है यह तिल और खोआ (पूरे सूखे दूध) से तैयार किया जाता है। यह शरीर को गर्मी और ऊर्जा प्रदान करता है जो शीतकालीन ठंड से बचाने में मदद करता है। यह व्यंजन बहुत लोकप्रिय और स्वादिष्ट है।

मिंटो टॉवर

मिंटो टॉवर का निर्माण, 1906-07 में गिद्धौर के महाराजा ने तत्कालीन ब्रिटिश वाइसराय लॉर्ड मिंटो की गिद्धौर यात्रा के दौरान उनके स्वागत हेतु बनवाया था। यह जमुई-झाझा राष्ट्रीय राजमार्ग-333 पर गिद्धौर बाजार के मध्य में स्थित है। इसमें कुल 12 बड़े स्तंभ हैं। बैठे हुए बड़े शेर को चार बाहरी स्तम्भों पर रखा गया है। टॉवर के चारों ओर चार बड़े घंटे की घड़ियाँ लगी हैं। मिंटो टावर की 100वीं वर्षगांठ के लिए वर्ष 2008-09 में इसे पुनर्निर्मित किया गया था। यह टावर गिद्धौर का सबसे प्रमुख प्रतीक है। 

राज महल

यह 14 वीं शताब्दी का एक भव्य और विशाल महल है जो मुख्य बाजार और उलाई नदी के किनारे स्थित है। महल के प्रवेश द्वार पर दो बड़े तोप और सीमा की दीवार पर गार्ड की मूर्तियां दर्शकों को अपनी ओर आकर्षित करती हैं। 

दुर्गा पूजा और लक्ष्मी पूजा

गिद्धौर दुर्गा पूजा के लिए स्थानीय रूप से प्रसिद्ध है जिसमें दूर-दूर के लोग दर्शन एवं पूजा के लिए आते हैं। दुर्गा पूजा के लिए दस दिन का त्यौहार और लक्ष्मी पूजा के लिए दो दिन का आयोजन किया जाता है; जिसमें दंडवत और संध्या आरती (संझौती) पवित्रता और निष्ठां से किया जाता है। अष्टमी के दिन, लोग माता दुर्गा के दर्शन करते हैं। नवमी के दिन जानवरों की बली दी जाती है। विजयदशमी के दिन, माता दुर्गा की प्रतिमा को त्रिपुर सुंदरी तालाब में विसर्जन के लिए नगर जुलूस के साथ धूमधाम से सड़क के रास्ते ले जाया जाता है।

लालकोठी

यह स्वर्गीय दिग्विजय सिंह का निजी घर है। इसमें सुंदर उद्यान है सभी भवन की दीवार बड़ी आयताकार लाल ईंट द्वारा बनाई गई है और इस प्रकार इसका नाम लाल-कोठी है।

(इंटरनेट एवं स्थानीय इतिहास के सहयोग से gidhaur.com के लिए सुशान्त साईं सुन्दरम द्वारा लिखित)

Comments

Most Read

गिद्धौर में शिक्षक प्रशिक्षण केन्द्र का निर्माण शुरू, भूमि पूजन संपन्न

"गिद्धौर शिक्षा के क्षेत्र में दिनोंदिन आगे बढ़ रहा है। साईकिल से विद्यालय जाती लड़कियां और हर वर्ष मैट्रिक-इंटर परीक्षा में बेहतरीन रिजल्ट इस बात का प्रमाण है कि बच्चों के पढ़ने की ललक के आगे अभिभावक भी जागरूक होकर उन्हें विद्यालय जाने को प्रोत्साहित कर रहे हैं। लेकिन इन नौनिहालों को अच्छी शिक्षा तब मिल पाएगी जब उन्हें अच्छे शिक्षकों का साथ मिलेगा, और अच्छे शिक्षकों के लिए गिद्धौर में एक बीएड कॉलेज का होना समय की मांग है। हम गिद्धौर में जमीन उपलब्ध करवाएंगे यदि आप इस दिशा में विशेष ध्यान देकर शिक्षक प्रशिक्षण केन्द्र निर्माण करवाने की पहल करें।" 
वर्ष 2014 में 6 फ़रवरी को जब गिद्धौर स्थित महाराज चंद्रचूड़ विद्यामंदिर के हीरक जयंती कार्यक्रम का भव्य आयोजन किया गया था तब कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि के रूप में गिद्धौर निवासी व बिहार सरकार के तत्कालीन भवन निर्माण मंत्री श्री दामोदर रावत ने कार्यक्रम के मुख्य अतिथि व उद्घाटनकर्ता सूबे के तत्कालीन शिक्षा मंत्री श्री पी के शाही का गिद्धौर की धरती पर स्वागत करते हुए यह प्रस्ताव रखा था। जिसके जवाब में श्री शाही ने अपने भाषण के दौरान गिद्धौ…

बड़ी खबर : प्रगति ने लालटेन छोड़ थामा तीर, टूटा राजद का स्तम्भ

Gidhaur.com  -  बिहार के राजनीतिक परिदृश्य में बुधवार को एक बड़ी उलटफेर देखने को मिली। राष्ट्रीय जनता दल अतिपिछड़ा प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष, प्रदेश प्रवक्ता, प्रदेश मीडिया प्रभारी, राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सदस्य एवं 2014 लोकसभा में राजद के मुंगेर प्रत्याशी श्री प्रगति मेहता आज जनता दल यूनाइटेड में शामिल हो गए। उन्हें जदयू बिहार प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह ने पार्टी की सदस्यता दिलाई एवं माला पहना कर उनका स्वागत किया। पार्टी में शामिल होने के बाद श्री मेहता ने कहा कि हमलोग समाज के लिए देश के लिए कुछ काम करने आते हैं और एक सम्मान की चाहत होती है। मुझे लग रहा है कि सही जगह मैं आया हूँ। सम्मान जो मिल रहा है और सम्मान की जो उम्मीद लोग करते हैं इसकी वह सही जगह है। माननीय मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने जो विकास किया है और उनका जो विजन है और सबसे बड़ी बात भ्रष्टाचार के मसले पर जो जीरो टोलेरेंस का उनका दृढ संकल्प है उससे मैं काफी प्रभावित हूँ। उन्होंने दाएं-देखा न बाएं देखा अपनी निति पर अडिग रहे और उन्होंने कड़ा फैसला लिया। भ्रष्टाचार से हम समझौता नहीं कर सकते, कुर्सी रहे चाहे जाए।
प्रगति मेहता …

जमुई : हथियार के बल पर मेडिकल शॉप को लूटने का असफल प्रयास

Gidhaur.com(जमुई) : सोमवार को जमुई ज़िले के टाऊन थाना क्षेत्र से महज 100 मीटर की दूरी पर स्थित बर्णवाल मेडिकल हॉल में रात्रि 9 बजे हथियार के बल पर एक अपराधी ने लूट-पाट का प्रयास किया एवं दुकानदार से रंगदारी लेना चाहा। इसका विरोध किये जाने पर अपराधी ने दुकानदार को हथियार का भय दिखाकर डराने का भी प्रयास किया। शराब के नशे में धुत था अपराधी गौतम राम इस दौरान दुकानदार और लुटेरे के बीच हाथापाई भी हुई जिसमे दुकानदार ने लुटेरे के हाथ से हथियार छीन लिया, लेकिन लुटेरा हाथ छुड़ा कर दुकान से भाग निकला। दूकान में लगे कैमरा फुटेज के आधार पर शिनाख्त कर की गई गिरफ्तारी दुकान के अंदर हो रहे इस पूरी घटना को वहां लगे सीसीटीवी कैमरा ने रिकॉर्ड कर लिया। पुलिस के पहुँचने के बाद उन्हें सीसीटीवी की पूरी रिकॉर्डिंग दिखाई गई। वीडियो फुटेज में जो शख्स लूट पाट का प्रयास कर रहा था उसकी पहचान पुलिस ने कल्याणपुर निवासी अपराधी गौतम कुमार के रूप में की। इसके बाद पुलिस ने शहर में छापेमारी शुरू कर दी। इस दौरान लुटेरा गौतम कुमार को पुलिस ने महज 20 मिनट में गिरफ्तार कर लिया। 
(मो.अंजुम आलम) जमुई     |     12/09/2017, मंगलवार www.…

गिद्धौर : मिलेनियम स्टार फाउंडेशन ने चलाया सफाई अभियान

Gidhaur.com(न्यूज़ डेस्क) : रविवार को गिद्धौर के दुर्गा मंदिर एवं मेला परिसर में सामाजिक गतिविधियों में सक्रीय स्थानीय संस्था मिलेनियम स्टार फाउंडेशन द्वारा सफाई अभियान चलाया गया. जिसमे दर्जनों युवाओं ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया और इस कार्यक्रम को सफल बनाया. रविवार की सुबह सात बजे जैसे ही मिलेनियम स्टार के सदस्यों ने हाथों में झाड़ू लेकर मेला परिसर में प्रवेश किया, वहां मौजूद सभी लोग कौतुहलवश देखने लगे की यहाँ आखिर क्या होने वाला है. गिद्धौर में ऐसा पहली बार हुआ की एक सामाजिक संस्था के द्वारा ऐसी निःस्वार्थ भावना से कचड़े की साफ़-सफाई की गई हो. गिद्धौर में दुर्गा पूजा एवं लक्ष्मी पूजा के पंद्रह दिनों से भी अधिक के समय में मेले के दौरान कितनी गंदगी हो जाती है, यह तो यहाँ के निवासी ही बता सकते हैं. लेकिन इस गन्दगी को दूर करने के विषय में कोई सोचता तक नहीं. सफाई अभियान का संचालन शैलेश कुमार के नेतृत्व में किया गया. जिसमें मुख्य रूप से उपस्थित मिलेनियम स्टार फाउंडेशन के अध्यक्ष सुशान्त साईं सुन्दरम ने कहा की किसी न किसी को इस कार्य के लिए पहल करनी ही चाहिए थी, तो यह हमारा सौभाग्य है की हमारी संस्था …

जमुई की खुशबु बनी इंटर विज्ञान में राज्य टॉपर

बिहार विद्यालय परीक्षा समिति द्वारा बारहवीं के सभी संकायों का रिजल्ट आज जारी कर दिया गया। विज्ञान संकाय में जमुई की खुशबु कुमारी ने राज्यभर में टॉप किया है। खुशबु सिमुलतला आवासीय विद्यालय की छात्रा है। खुशबु को 500 में 431 अंक मिले हैं। 86.2 प्रतिशत अंक लाकर खुशबु ने विज्ञान संकाय में राज्यभर में अपना परचम लहरा दिया है। खुशबु का परिवार मूल रूप से औरंगाबाद के रहने वाले हैं। उनके पिता अभय कुमार बिजली विभाग में ऑपरेटर हैं एवं माता गृहिणी हैं। खुशबु ने अपने बेहतरीन रिजल्ट का श्रेय अपने माता-पिता और शिक्षकों को दिया है। उनका कहना है कि सिलेबस की अच्छे तरीके से पढ़ाई, सेल्फ स्टडी और मॉडल सेट से प्रैक्टिस द्वारा ही यह संभव हो पाया है। तनाव को उन्होंने अपने ऊपर हावी नहीं होने दिया और बिलकुल रिलैक्स होकर सभी पेपर लिखे। इसके साथ ही खुशबु ने JEE MAINS की परीक्षा क्रैक कर चुकी हैं और अब एडवांस के रिजल्ट का इन्तजार कर रही हैं। 

(खुशबु कुमारी का मार्कशीट)
(सुशान्त साईं सुन्दरम)~गिद्धौर       |       30/05/2017, मंगलवार 
www.gidhaur.blogspot.com


मानव श्रृंखला : बिहार के विश्व रिकॉर्ड में गिद्धौर ने दिया योगदान

विश्व की सबसे लंबी मानव श्रृंखला बनाकर इतिहास रचने के लिए आज पूरा बिहार एकजुट हुआ। इसमें गिद्धौर की धरती ने भी अपना योगदान दिया। आज सुबह से ही स्कूलों व बाजार में चहल-पहल देखी गई। गिद्धौर के लोग खुद को खुशनसीब मानकर इसमें योगदान देने को उत्सुक दिखे एवं जगह-जगह मानव श्रृंखला का निर्माण करने के लिए इकठ्ठा हुए।
एन एच - 333 पर बनी मानव श्रृंखला
गिद्धौर में मानव श्रृंखला के निर्माण में स्कूली बच्चे, शिक्षकगण, राजनितिक व सामाजिक कार्यकर्त्ता, जनप्रतिनिधि, ग्रामीण व विभिन्न तबके के लोग मुख्य सड़क एन एच - 333 पर एक दूसरे के हाथ में हाथ डाले खड़े हुए।
उत्साह, गर्व, मुस्कान और जय बिहार गिद्धौर की सड़क पर मानव श्रृंखला के निर्माण की शुरुआत होते ही लोगों के चेहरे पर मुस्कान, बच्चों के मन में उत्साह और महिलाओं के चेहरे पर गर्व साफ़ झलक रहा था। बच्चों द्वारा नशामुक्ति को लेकर विभिन्न नारे लगाये जा रहे थे। साथ ही जय बिहार और जय गिद्धौर के नारे से पूरा वातावरण गुंजायमान हो रहा था।
परिचालन पर रहा रोक
एन एच - 333 गिद्धौर से जमुई व गिद्धौर से झाझा होते हुए बड़े शहरों को जोड़ने वाला राष्ट्रीय राजमार्ग है। मानव श…

ब्रिक्स यंग पार्लियामेंटेरियन समिट में शामिल होंगे सांसद चिराग

Gidhaur.com(न्यूज़ डेस्क) : लोक जनशक्ति पार्टी के केंद्रीय संसदीय बोर्ड के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं जमुई लोकसभा से सांसद चिराग पासवान रूस के सेंट पीटर्सबर्ग में होने वाले ब्रिक्स यंग पार्लियामेंटेरियन समिट में भारत का प्रतिनिधित्व करेंगे। चिराग पासवान के साथ तीन और युवा सांसद इस समिट में देश की ओर से भाग ले रहें है। न केवल जमुई और बिहार के लिए बल्कि देश के लिए भी यह गौरव की बात है की युवा सांसद ब्रिक्स की सम्मेलन में देश का प्रतिनिधित्व करेंगे। जहाँ युवाओं की समस्याओं और उनके समाधान पर विस्तार से चर्चा होगी। इस सम्मेलन में भारत के अलावा ब्राजील, रूस, चीन एवं दक्षिण अफ्रीका के युवाओं प्रतिनिधियों के साथ युवाओं की भागदारी पर भी चर्चा होगी। चिराग पासवान इसके पहले संयुक्त राष्ट्र अमेरिका में देश का प्रतिनिधित्व कर चुके है और वहाँ भी इन्होंने युवाओं की भागदारी, उनकी समस्याएँ एंव उनके निदान पर विस्तृत चर्चा की थी। चिराग पासवान के इस समिट में देश की ओर से प्रतिनिधित्व करने से बिहार के ही नही देश के युवाओं को अब यह लगने लगा है कि अन्तराष्ट्रीय मंच पर भी हमारी समस्याओ के समाधान हेतु चर्चा होगी और …

वेदों के जानकार हैं गुरु रहमान, IAS-IPS बनाने के लिए लेते हैं ग्यारह रुपये की गुरु दक्षिणा

Gidhaur.com - पटना | आधुनिकता के इस दौर में आज भी गुरुकुल की परंपरा कायम है। जहां प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी के लिए कोचिंग संस्थान लाखों की फीस वसूलते हैं। वहीं, पटना का एक संस्थान मात्र ग्यारह रुपये गुरु दक्षिणा लेकर छात्रों को दारोगा से लेकर आईएएस और आईपीएस बनाता है। हर साल यहां जब यूपीएससी और बीपीएससी से लेकर स्टेट स्टॉफ सलेक्शन का रिजल्ट आता है तो इस गुरुकुल में जश्न का माहौल होता है। यहां सिर्फ बिहार और झारखण्ड से ही नहीं बल्कि उत्तर प्रदेश उतराखंड और मध्य प्रदेश से भी छात्र-छात्राएं पढ़ाई करने आते हैं और सभी के लिए एक ही फ़ीस है ग्यारह रुपये। सबसे ख़ास बात यह है की इस गुरुकुल के प्रधान हैं रहमान। जिन्हें सभी गुरु रहमान के नाम से जानते है लेकिन एक मुसलमान होने के बाद भी वो सिर्फ वेदों के ज्ञाता ही नहीं बल्कि उनके गुरुकुल में वेदों की पढ़ाई भी होती है।पटना के नया टोला में चलता है अदम्य अदिति गुरुकुल। गुरुकुल के नाम से यह संस्थान 1994 से चल रहा है। 1994 में जब बिहार में 4 हजार दारोगा की बहाली निकली थी तो इस संसथान में पढने वाले करीब ग्यारह सौ लड़कों ने सफलता प्राप्त की थी। यही नहीं …

जमुई : राजदरबार को मिला नया इंटीरियर लुक, लीजिये लजीज व्यंजनों का मजा

जमुई के सुप्रसिद्ध राजदरबार फैमिली रेस्टुरेंट के इंटीरियर को नया लुक दिया गया है। इसकी जानकारी शुक्रवार को रेस्टुरेंट के मालिक श्री राजेश कुमार सिन्हा ने अपने फेसबुक पर तस्वीरें जारी कर दी। ज्ञात हो की जमुई जिले का यह पहला और आधुनिक फैमिली रेस्टुरेंट है जहाँ शुद्ध एवं जायकेदार व्यंजनों का लुत्फ़ आप अपने परिवार के साथ उठा सकते हैं।
रुपया 100 का रिचार्ज, क्लिक करें और अपना मोबाइल नंबर डालें

अपने शुरुआती दिनों से ही यह रेस्टुरेंट जिलाभर के लोगों की पहली पसंद बना हुआ है। आम और ख़ास नामचीन हस्तियों का यहाँ आना लगा रहता है। सांसद, विधायक सहित जिला मुख्यालय आने वाले लोग अपनी तृष्णा यहाँ आकर ही शांत करते हैं। साफ़-सफाई एवं शुद्धता का यहाँ विशेष ध्यान रखा जाता है।  साथ ही सभी कर्मचारी विनम्र एवं मृदुभाषी भी हैं। विभिन्न स्वादिष्ट वेज-नॉनवेज आइटम, स्नैक्स, इंडियन डिश आदि यहाँ ग्राहकों को उपलब्ध कराया जाता है। इंटीरियर का नया डिज़ाइन और नए प्रकार के लइटिंग्स को लोग खूब पसंद कर रहे हैं। किसी दिन आप भी अपने परिवार और मित्रों के साथ यहाँ के लजीज व्यंजनों का आनंद लीजिये। 
रुपया 100 का रिचार्ज, क्लिक करें औ…

बड़ी फेरबदल : आईपीएस जयंतकांत का हुआ तबादला, जगुनाथरेड्डी जलारेड्डी जमुई के नए एसपी

Gidhaur.com(बड़ी खबर) : नववर्ष के आगमन से पूर्व जमुई के लिए एक बड़ी खबर है. बिहार सरकार के गृह विभाग ने बड़ी फेरबदल करते हुए रविवार 31 दिसंबर 2017 को अधिसूचना जारी कर जमुई पुलिस अधीक्षक के पद पर कार्यरत 2009 बैच के आईपीएस जयंतकांत को पश्चिम चंपारण, बेतिया के पुलिस अधीक्षक के पद पर स्थानांतरित कर दिया गया है.

उनकी जगह गया में पुलिस अधीक्षक के पद पर कार्यरत 2013 बैच के आईपीएस जगुनाथरेड्डी जलारेड्डी को जमुई के नए पुलिस अधीक्षक के रूप में पदस्थापित किया गया है.  बताया जा रहा ही कि आईपीएस जगुनाथरेड्डी जलारेड्डी की छवी मिनी मनु महराज की है. रात में अकेले ही गश्ती पर निकल जाते हैं. नशेड़ियों और अपराधियों पर इनकी विशेष नजर रहती है.

सुशान्त साईं सुन्दरम
Gidhaur.com         |          31/12/2017, रविवार