बड़ी खबरें

गिद्धौर : धार्मिक आस्था के आगे टूटा सोशल डिस्टेंसिंग, बाबा घनश्याम स्थान में उमड़ी भारी भीड़, देखें वीडियो

कोल्हुआ/गिद्धौर/जमुई (सुशान्त साईं सुन्दरम) :
गिद्धौर (Gidhaur) प्रखंड के कोल्हुआ (Kolhua) पंचायत अंतर्गत बाबा घनश्याम स्थान (Baba Ghanshyam Sthan) में आषाढ़ शुक्ल पक्ष की पहली सोमवारी को भारी भीड़ उमड़ी। क्षेत्र भर से श्रद्धालुओं ने यहाँ पहुंचकर बाबा घनश्याम को दूध-जनेऊ अर्पित किया। इस दौरान मुंडन संस्कार एवं बलिदान भी किया गया। करीब एक किलोमीटर की दूरी तक वाहनों की कतार लगी रही।
बाबा घनश्याम स्थान के वरीय पुजारी छोटू पंडित जी ने यहाँ की महत्ता के बारे में बताया कि यहाँ का यश दूर-दराज के गांवों में भी फैला हुआ है। लोग मन्नत पूरी होने पर दूध-जनेऊ एवं बिल्वपत्र चढ़ाने यहाँ आते हैं।
बड़ी संख्या में महिला, पुरुष, युवा, वृद्ध एवं बच्चों की उपस्थिति बाबा घनश्याम स्थान में देखने को मिली। लेकिन कोरोना वायरस (Corona Virus) की महामारी के बीच भी श्रद्धालु किसी प्रकार के सुरक्षा संसाधन का उपयोग करते नजर नहीं आये। न तो किसी ने मास्क पहना था और न ही कोई गमछा से मुंह ढंके था। इस दौरान धार्मिक आस्था कोरोना महामारी पर भारी पड़ती नजर आई। लोग बेख़ौफ़ असुरक्षित तरीके से परिसर में नजर आए। सोशल डिस्टेंसिंग (Social Distancing) की भी दीवारें टूट गई। भीड़ की धक्का-मुक्की में किसी ने भी सामाजिक दूरी का ख़याल नहीं रखा। घनश्याम स्थान परिसर में मेला सा माहौल देखने को मिला। ऐसे में कोरोना वायरस के सामाजिक संक्रमण (Social Transmission) के फैलने की संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता।
पाठकों को बताते चलें कि प्रत्येक सोमवार, बुधवार एवं शुक्रवार को बाबा घनश्याम की पूजा की जाती है। जिसमें सोमवार को विशेष भीड़ लगती है। लोग अपने घरों से दूध-जनेऊ लाकर बाबा घनश्याम के पिंडी स्वरूप पर चढ़ाते हैं।

देखिये लाइव वीडियो >>


No comments