बड़ी खबरें

गिद्धौर के महुलीगढ़ में पर्यावरण प्रेमियों ने किया पौधरोपण, 232वें यात्रा में बिखरी हरियाली

News Desk | Abhishek Kumar Jha】:-

आधुनिकरण के इस दौड़ में जाने अनजाने में मनुष्य अपने परिवेश को काफी नुकसान पहुंचा रहा है, पर हमारे समाज में कई ऐसे लोग भी हैं जो अपने प्रयासों से इस वसुंधरा को हरा-भरा बनाए रखने की कोशिश में जुटे हैं। साईकिल यात्रा विचार मंच जमुई के सदस्य इसका जीता-जागता उदाहरण है। अपने नियमित 232वें रविवारीय यात्रा में विचारमंच की टीम गिद्धौर पहुंची जहां महुलीगढ़ स्थित एक निजी जमीन में दो दर्जन पौधों का रोपण किया।


इस यात्रा में ग्रामीणों को पर्यावरण संरक्षण का पाठ पढ़ाते हुए विचारमंच के सदस्य अभिषेक आनन्द बताया कि मनुष्य के दैनिक दिनचर्या की पूर्ती में पर्यावरण दूषित होते जा रही है, इसका प्रभाव जन जीवन पर पड़ रहा है। इसके लिए जरूरत है अधिक से अधिक पेड़ लगाने की। वहीं सदस्य विनय तांती ने बताया कि बदलते परिवेश और जीवनशैली में प्रकृति का दोहन आम हो गया है, इसे सन्तुलित करने के लिए यह विचारमंच संकल्पित है।

वीडियो देखिए :-

इधर, अपने जमीन पर पौधरोपण करा रहे शिक्षक अशोक कुमार मिश्रा ने प्रकृति से प्रेम और पौधरोपण के प्रति अपना वक्तव्य रखा। उन्होंने इन पर्यावरण प्रेमियों का उत्साहवर्धन करते हुए सदस्यों को साधुवाद का पात्र बताया । वहीं छात्र आदित्य मिश्र ने विचारमंच के इस मुहिम का स्वागत करते हुए कहा कि उनके पूर्वज भी पर्यावरण संरक्षण में अपना योगदान दे चुके हैं, इसे जारी रखते हुए वे भी Cycle Yatra Ek Vichar के इस मुहिम में अपना योगदान दिया है।


इस मुहिम के 232वें यात्रा में पर्यावरण प्रेमी विवेक कुमार, हरेराम कुमार सिंह, सचिराज पद्माकर, शैलेश भारद्वाज, अभिषेक आनंद, विनय तांती, आकाश कुमार, रणधीर कुमार, बंटी कुमारके अलावे भू स्वामी अशोक कुमार मिश्र, छात्र आदित्य मिश्र, ग्रामीण बलराम कुमार तांती, बासुकी तांती, गुड्डू तांती, श्याम कुमार, पेचों कुमार आदि ने विचारमंच के बैनर तले पर्यावरण संरक्षण का प्रण लिया।