Merit Go

Breaking News

गिद्धौर MCV एवं बानाडीह स्कूल को मिला ट्रेन लुक, बच्चों की उपस्थिति बढ़ी


न्यूज़ डेस्क | अभिषेक कुमार झा】:-

शिक्षा को मनोरंजक बनाने के लिए विभागीय पहल पर गिद्धौर स्थित महाराज चन्द्रचूड़ विद्यामन्दिर एवं प्राथमिक विद्यालय बानाडीह  को ट्रेन का लुक दिया गया है।
गिद्धौर हाई स्कूल का विद्यालय प्रांगण


शिक्षाविदों का मानना है कि विद्यालय यदि दिखने में आकर्षक हो तो शिक्षार्थियों का लगाव पढ़ाई के प्रति बढ़ जाता है। इसमें भी अगर स्कूल ट्रेन जैसी दिखे तो ये लगाव रोचकता का रूप ले लेती है।
विद्यालय के शिक्षकों की यदि माने तो, विद्यालय का माहौल खुशनुमा बनाने और नौनिहालों को रोमांच का अनुभव करवाने के लिए स्कूल को ट्रेन का लुक दिया गया है।


 - कुछ ऐसा है विद्यालय परिसर का नजारा-

 रंग-रोगन से एमसीभी एवम बानाडीह विद्यालय का लुक ही ट्रेन जैसा कर दिया गया है। स्कूल परिसर की रंगाई पुताई हूबहू रेल की तरह नजर आती है। गेट और खिड़कियां बाकायदा ट्रेन की तरह बनाई गई है। विद्यालय की कक्षाएं ट्रेन के डिब्बे की भांति नजर आ रही हैं। बच्चे कक्षाओं से बाहर निकलते हैं तो ऐसा आभास होता है कि जैसे ट्रेन से उतर रहे हों। ट्रेन की खिड़कियों की तरह की यहां बनाए गए दरवाजे हु-ब-हू दिखते हैं। पूरी स्कूल एक रेल को देखने का अहसास करवाती है।


ट्रेन के आगे एक कक्षा को इंजन का रूप भी दिया गया है।  ऐसे में बच्चे नियमित रूप से स्कूल आना शुरू कर दिए हैं और कुछ दिनों से बच्चों की उपस्थिति भी बढ़ी है।
गिद्धौर के सेवा निवासी निशान्त आर्ट के प्रो. मुकेश कुमार साव ने स्कूल को ट्रेन का लुक दिया है।
गिद्धौर प्रखंड के ये दोनो ऐतिहासिक विद्यालय अब स्थानीय आमजन के लिए आकर्षण का केंद्र बन गई है।