Breaking News

विमानन सचिव बोले - आधिकारिक भाषा में काम करने में समस्या है तो हिंदी में हस्ताक्षर से शुरू करें



8 NOV 2019

नई दिल्ली : जिन्हें हिंदी में नोटिंग फाइल करने में दिक्कत हैं, उनके लिए नागरिक उड्डयन सचिव की तरफ से सलाह है कि बड़े कार्य के लिए छोटे से शुरुआत करें।

कर्नाटक कैडर के 1985 बैच के अधिकारी प्रदीप सिंह खरोला ने कर्मचारियों को सलाह दी है कि कम से कम आधिकारिक पत्राचार में अपने हस्ताक्षर तो हिंदी में करें।खरोला ने आधिकारिक भाषा कमेटी की बैठक की अध्यक्षता की। उन्होंने कर्मचारियों को निर्देश दिया कि हिंदी में छोटी टिप्पणी लिखें।

खरोला के निर्देशों के मद्देनजर आधिकारिक भाषा प्रकोष्ठ द्वारा जारी एक आधिकारिक ज्ञापन में कहा गया, "सभी अधिकारियों/कर्मचारियों को अपने हस्ताक्षर हिंदी में करने की सलाह दी जाती है।"

आधिकारिक भाषा को बढ़ावा देने के दूसरे उपायों में सचिव ने अधिकारियों व दूसरे कर्मचारियों को अपने नाम व पदनाम को हिंदी व अंग्रेजी दोनों में लिखने की सलाह दी।मंत्रालय में सहायक निदेशक द्वारा सभी विभागों और अधीनस्थ कार्यालयों को कार्यालय ज्ञापन जारी किया गया है।

एडवाइजरी में आधिकारिक भाषा व हिंदी में कार्य करने के अनुकूल वातावरण को बढ़ावा देने के लिए 18 उपायों को सूचीबद्ध किया गया है।इस योजना के अनुसार, मंत्रालय भविष्य में अंग्रेजी के अलावा हिंदी में होर्डिग्स व दूसरी पचारी सामग्री जारी करेगा। नियुक्ति पत्र भी आधिकारिक भाषा में जारी किए जाएंगे। मंत्रालय चरित्र प्रमाण पत्र भी हिंदी में जारी करेगा।

निर्देश में कहा गया, "यह आग्रह है कि आधिकारिक भाषा के प्रयोग को बढ़ावा देने के लिए निर्देशों का पालन किया जाए।"पिछले महीने मंत्रालय में हुई बैठक के बाद 30 अक्टूबर को निर्देश जारी किया गया।