Breaking News

गिद्धौर : माथे पर सूप-दउरा लिए छठ घाट पहुंचे व्रती, सूर्योदय का हो रहा इंतजार

गिद्धौर [सुशान्त साईं सुन्दरम] :
छठ महापर्व के आखिरी दिन भगवान भास्कर को प्रातः अर्घ्य देने श्रद्धालुओं का छठ घाट तक पहुंचने का सिलसिला शुरू हो गया है। माथे पर सूप-दउरा लिए श्रद्धालु नागी-नकटी-उलाई नदी के संगम तट पर दुर्गा मंदिर घाट, राजमहल घाट, रानी बगीचा घाट, कलाली रोड घाट सहित विभिन्न छठ घाटों तक पहुंच रहे हैं।
मौसम में ठंडक होने की वजह से प्रातः अर्घ्य में अमूमन प्रति वर्ष लोगों को स्वेटर पहनना पड़ जाता है। घाट किनारे का तापमान फिलहाल 21℃ है। पानी में कनकनी है।
सुबह के धुंधलके में दियों की रौशनी से छठ घाट शोभित हो रहा है। महिलाएं मंगल गीत गाकर भगवान सूर्य की उपासना कर रही हैं।
वहीं छोटे-छोटे बच्चों का उत्साह देखने लायक है। सभी छठ घाट किनारे पटाखा फोड़ने में लगे हैं। शुद्धता-स्वच्छता एवं नियमों का ध्यान रखते हुए छठ घाट तक आने वाले सभी रास्तों को धोया गया है।
दुर्गा मंदिर घाट एवं कलाली रोड घाट पर भगवान भास्कर की प्रतिमा स्थापित की गई है। घाट किनारे मधुर आवाज में छठ के गीत बजाए जा रहे हैं।