Breaking News

ट्यूशन टीचर ने पहली बीवी के रहते किया प्रेम विवाह, पति को पाने की लड़ाई पहुंची महिला आयोग

पटना [अनूप नारायण] :'पति पत्नी और वो' की कहानी तो आपने खूब सुनी होगी. इस विषय पर कई फिल्में भी बनी हैं. सोशल मीडिया पर जोक्स भी खूब शेयर होते हैं. बॉलीवुड एक्टर कार्तिक आर्यन की फिल्म 'पति पत्नी और वो' भी इसी विषय पर है और आजकल खूब सुर्खियां भी बटोर रहा है. इस मूवी से मिलती-जुलती रियल लाइफ की कहानी बिहार की राजधानी पटना में भी देखने को मिली. यहां महिला आयोग के कार्यालय सीतामढ़ी जिले की रहने वाली पिंकी कुमारी ने अपने पति सुरेश कुमार पर दूसरी महिला नीलू भारती से संबंध होने का आरोप लगा न्याय की गुहार लगाई. पारिवारिक विवाद के इस मामले में रोचक यह है कि पहली पत्नी के महिला आयोग में शिकायत करने के बाद सुरेश और नीलू भी आयोग पहुंचे. यहां नीलू ने भी सुरेश पर दावा किया. अब दोनों महिलाएं जहां पति को अपना बता रही हैं, वहीं पति सुरेश कुमार ने आयोग में सुनवाई के दौरान दोनों पत्नियों को साथ रखने पर हामी भरी है. आयोग ने दोनों पक्षों की दलीलें सुनने के बाद सुलह के लिए 2 महीने का समय दिया है.
पहली पत्नी की दलील- पति को नहीं बांटूंगी...
ट्यूशन टीचर सुरेश कुमार के खिलाफ उसकी पहली पत्नी पिंकी कुमारी ने आरोप लगाया है कि दूसरी पत्नी के फेर में पड़कर उसका पति मार-पीट करता है. पिंकी ने महिला आयोग से की गई शिकायत में कहा है कि उन दोनों की शादी 15 साल पहले हुई थी. उसके दो बच्चे भी हैं. लेकिन कुछ साल पहले सुरेश दूसरी महिला (नीलू भारती) के संपर्क में आ गया और उससे शादी कर ली. अब वह अक्सर पत्नी के साथ मारपीट करता है. कई-कई दिनों तक घर भी नहीं आता है. पिंकी कुमारी ने सुरेश कुमार पर दावा करते हुए कहा है कि वह अपने पति को किसी के साथ बांटना नहीं चाहती है
पटना में महिला आयोग ने तीनों लोगों से लिखित में बयान लिया..
दूसरी पत्नी बोली- चाहे नौकरी जाए, छोड़ूंगी नहीं
इधर, सुरेश कुमार की दूसरी पत्नी नीलू भारती ने भी आयोग में अपनी बातें रखीं. नीलू ने बताया कि 5 साल पहले सुरेश ने उसे ट्यूशन पढ़ाना शुरू किया था. इस दौरान नीलू को सुरेश से प्रेम हो गया और दोनों ने 2014 में सहरसा के एक मंदिर में शादी कर ली. इसके बाद 2015 में नीलू को बिहार पुलिस में नौकरी मिल गई. अभी वह हाजीपुर में कॉन्स्टेबल के पद पर तैनात है. नीलू ने कहा कि उसे सुरेश और पिंकी की शादी के बारे में पहले से जानकारी थी, फिर भी उसने शादी की. अब वह किसी भी हाल में सुरेश को नहीं छोड़ेगी. अगर इस मामले को लेकर उसकी नौकरी भी चली जाती है, तब भी वह सुरेश के साथ ही रहेगी..
पति सुरेश के फैसले से आया रोचक मोड़
महिला आयोग में दूसरी पत्नी के साथ पहुंचे सुरेश का भी बयान लिया गया. यहां सुरेश ने बताया कि पैसों की तंगी के कारण वह ट्यूशन पढ़ाता है. नीलू के सरकारी नौकरी लग जाने के बाद पैसों की तंगी दूर हो गई, जिसकी वजह से उसने शादी की. दोनों पत्नियों के बीच विवाद को लेकर जब सुरेश से सवाल किया गया तो उसने कहा कि अगर दोनों महिलाएं मान जाए, तो वह पिंकी और नीलू को एक साथ रखने को तैयार है. 'पति, पत्नी और वो' के मामले में इस रोचक मोड़ के आने के बाद महिला आयोग ने दोनों पक्षों को सुलह करने के लिए 2 महीने का समय दिया है. आयोग अब अगले साल फरवरी में इस मामले पर सुनवाई करेगा.