Breaking News

मांगोबन्दर सहित जिले के सभी पैक्सों में धान खरीदी में धांधली, उच्चस्तरीय जांच की मांग


[gidhaur.com | नीरज कुमार] :-

अखिल भारतीय किसान महासभा जिला कमिटी जमुई की ओर से बुधवार को मांगोबंदर पैक्स में हजारों टन धान की खरीदी में लाखों के घोटाला के खिलाफ अम्बेडकर चौक स्थल पर एक दिवसीय धरना दिया गया।  इस धरने की अध्यक्षता किसान सभा के जिला कमिटी सदस्य रमेश यादव ने किया। 


 धरने को सम्बोधित करते हुए अखिल भारतीय किसान सभा के जिला सचिव मनोज कुमार पांडेय ने कहा कि नीतीश सरकार में कृषि रोड़ मेप भ्रष्टाचार में डूबा हुआ है। सहकारिता पैक्स के तहत किसानों के नाम पर बड़ी गड़बड़ी की गई है। उंन्होने कहा कि खैरा प्रखंड अंतर्गत मांगोबन्दर पैक्स अध्यक्ष कमलेश कुमार सिंह द्वारा वित्त वर्ष 18-19 में धान खरीदी दरी में जिन किसानों का नाम सूची में अंकित किया गया है व किसान पैक्स को धान नही दिया, इस तरह जिले के सभी पैक्स अध्यक्ष द्वारा घोटाला किया गया है।
वित्त वर्ष2018-19 में सुखाड़ इनपुट प्रभावित योजना धान के तहत राशि प्राप्त किया है। उन्ही किसानों से 100 क्विन्टल से लेकर 50 क्विन्टल तक धान खरीद की सूची दिखाई गई है।  प्रतिनिधित्व मण्डल द्वारा तीन सूत्रों मांग पत्र जिला पदाधिकारी को दिया गया और उच्चस्तरीय जांच की मांग की गई।
इसको लेकर जिला पदाधिकारी ने जाँच कमिटी गठित कर जांच के आदेश दिए हैं।


इसी क्रम में धरना को सम्बोधित करते हुए भाकपा माले जिला सचिव शम्भू शरण सिंह ने कहा कि मोदी सरकार दुबारा सत्ता में आने के बाद निजीकरण, संविधान, लोकतंत्र, और संघिये ढांचे पर बड़े हमले हो रहे हैं। लाखों किसानों मजदूरों, दलितों, आदिवासियों के अधिकारों पर हमले हो रहे हैं।  धरने में उपस्थित, एक्टू  प्रभारी बासुदेव रॉय, जयराम तुरी, आइसा प्रदेश उपाध्यक्ष बाबू साहब, हैदर , बसारत,बसुबोध साह, रानी देवी, तारो देवी, निरिया देवी, मंजू देवी, सरदार मोदी, फैयाज अहमद, आयुष सिंह, सिंटू सिंह, डेगन माँझी, संजू माँझी, पोलो माँझी, सहित दर्जनों लोगों उपस्थित थे।