Breaking News

कोल्हुआ : जलछाजन कार्यक्रम में लूट खसोट, विमल मिश्र ने अधिकारियों से की जांच की मांग


[गिद्धौर | धनन्जय कुमार 'आमोद']:-

प्रखंड क्षेत्र के कोल्हुआ पंचायत के कुमरडीह गाँव में जलछाजन के द्वारा कराए जा रहे काम में राशि की लूट मची है। जी हां,  इसी को लेकर  कुमरडीह गाँव के ग्रामीण सह समाजसेवी विमल कुमार मिश्र ने डीएम को एक पत्र भेजा है जिसमे उंन्होने विभाग पर आरोप लगाते हुए कहा कि जलछाजन के पंचायत सचिव और कुछ ग्रामीण के द्वारा जलछाजन द्वारा कराई जा रही कार्य में राशि की लुट की जा रही है।


 आवेदन में उंन्होने  कहा है कि केन्द्र के द्वारा चलाई जा रही जलछाजन के तहत विभाग के द्वारा दो ही योजना वाटर हरवेसटिंग टैंक व फार्म पोंड का क्रियान्वयन आर.के.वी. वाई. के तहत होना है। बाकी राज्य सरकार के नीति के तहत जलछाजन कार्य होना है, लेकिन इस योजना के विपरीत जो कि लघू सिंचाई योजना या मनरेगा के तहत क्रियान्वित होने वाली योजना की जलछाजन के तहत लुट की जा रही है।
पत्र के अनुसार, कुमरडीह और खडहुआ में जिस पैन की खुदाई जलछाजन के तहत कराई जा रही उस पैन में कहीं से जल संचयन नही हो रहा है, ना ही किसी आहार और पोखर से जुडा है। कुमरडीह में चयनीत पंचवर्षीय योजना में मात्र एक पैन का जिक्र है, जिसका खाता 70 खसरा 281 है, जो कि पिछले वर्ष हो चुका है। बावजुद पंचायत सचिव व विभागीय पदाधिकारी के बीच आपसी ताल मेल बैठाकर सरकारी राशि की बंदर बाँट में लगे हैं। श्री मिश्रा ने इस दिशा में जिलाधिकारी से निष्पक्ष जांच की मांग की है।