Breaking News

मनोरंजन : वापस लौट रही हैं नदिया के पार वाली गुंजा


मनोरंजन (अनूप नारायण) :
1982 में आई फ‍िल्‍म नद‍िया के पार आपने कई बार देखी होगी और उस फ‍िल्‍म के प्रमुख क‍िरदार चंदन और गुंजा तो आपको याद ही होंगे। अगर आपको गुंजा का क‍िरदार याद है, तो हम आपको बता दें क‍ि कई सालों से पर्दे से दूर गुंजा यानी साधना स‍िंह वापस लौट रही हैं।

राजश्री प्रोडक्शन की फिल्म 'नदिया के पार' (1982) में गुंजा का रोल कर पॉपुलर हुईं साधना सिंह अचानक बड़े पर्दे से गायब हो गईं थी। उस समय उन्होंने कहा था कि उन्हें जिस तरह के रोल चाहिए उस तरह की फिल्में नहीं बन रहीं है, लेकिन अब जब वह वापसी कर रही हैं तो देखते हैं उनके प्रशंसक किस तरह उनका स्वागत करते हैं।साधना ने 'पिया मिलन', 'ससुराल', 'पापी संसार', 'फलक' जैसी फिल्मों में काम किया है। साधना ने टीवी पर बेहद ही चर्चित शो 'जस्सी जैसी कोई नहीं' में जस्सी की मां का किरदार भी निभाया था जिसे दर्शकों ने काफी पसंद भी किया था। 'नदिया के पार' में साधना का किरदार देखने के बाद लोगों ने अपनी बेटियों का नाम गुंजा रखना शुरू कर दिया था।साधना ने कभी एक्ट्रेस बनने के बारे में नहीं सोचा था। कई रिपोर्ट्स में ऐसा दावा किया गया है कि साधना किसी फिल्म की शूटिंग देखने गई थीं। तभी सूरज बड़जात्या की नजर उनपर पड़ी और उन्होंने उन्हें फिल्म के लिए साइन कर लिया। 

गौरतलब है कि सूरज के दादा ताराचंद बड़जात्या फिल्म के प्रोड्यूसर थे। इसे डायरेक्ट गोविंद मूनिस (दुबे) ने किया था। फिल्म में साधना के अपोजिट सचिन पिलगांवकर नजर आए थे।दर्शकों के दिलों-दिमाग पर छा जाने वाली साधना सिंह ने फिल्मों से अघोषित संन्यास ले रखा था लेकिन अब एक बार फिर साधना सिंह फिल्म Zindagi tumse After A Hiatus से कमबैक कर रही हैं। इस फ‍िल्‍म का न‍िर्देशन तारीक भट्ट ने क‍िया है।