Breaking News

सेवा : टूट गई है विद्यालय की दीवार, असुरक्षित महसूस करते हैं बच्चे

[ सेवा | शुभम् कुमार]:-
कहा गया है अगर देश की सीमाएं बंधी ना हो तो घुसपैठियों का प्रवेश का खतरा बढ़ जाता है ठीक उसी प्रकार अगर किसी विद्यालय की सीमाओं का निर्माण  ना हुआ हो तो असामाजिक तत्वों का प्रवेश को नकारा नहीं जा सकता है। शायद यही स्थिति जमुई जिला में गिद्धौर प्रखंड अंतर्गत सेवा गाँव के मध्य विद्यालय सह उच्च विद्यालय की है।
आपको बताते चलें पिछले लगभग आठ से दस वर्षों से इस विद्यालय में बाउंड्री वॉल की स्तिथि पूर्णतः जर्जर हो चुकी है या यूं कहें तो है ही नहीं। प्रारम्भ से ही इस विद्यालय में मुख्य द्वार की व्यवस्था नहीं है, जिससे बच्चे अपने आप को असुरक्षित महसूस करते हैं। बीते दिनों इस विद्यालय में चोरों के द्वारा चोरियां के कई वारदात को अंजाम दिया गया। कभी - कभी तो ये विद्यालय नशेड़ियों का अड्डा भी बन जाता है, जिसके दुष्परिणामस्वरूप कभी खिड़कियां टूटी मिलती है तो कभी दरवाजे।
ग्रामीणों का कहना है कई बार जांचोपरांत भी कोई कार्यवाही एवम् व्यवस्थाओं में सुधार नहीं किया गया। इन सब त्रुटियों को लेकर ग्रामीणों में व्याप्त रोष को देखा जा सकता है।
साभार :- अमन सिंह